मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा,''इस साल पाठ्यक्रमों की नहीं कराई जाएंगी परीक्षाएं

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा,''इस साल पाठ्यक्रमों की नहीं कराई जाएंगी परीक्षाएं

प्रदेश सरकार ने इस साल प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों व तकनीकी शिक्षण संस्थानों में स्नातक व स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों की परीक्षाएं नहीं कराने का फैसला लिया है।  

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में सीएम निवास पर एक उच्च स्तरीय मीटिंग में यह फैसला लिया गया। गहलोत ने बोला कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस साल पाठ्यक्रमों की परीक्षाएं नहीं कराई जाएंगी।

सभी विद्यार्थियों को जाएगा. प्रमोट होने वाले विद्यार्थियों के अंकों के निर्धारण के सम्बन्ध में हिंदुस्तान सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा आगामी कुछ दिनों में जारी होने वाले दिशा-निर्देशों का अध्ययन कर समुचित फैसला लिया जाएगा.

सभी विद्यार्थियों को जाएगा। प्रमोट होने वाले विद्यार्थियों के अंकों के निर्धारण के सम्बन्ध में हिंदुस्तान सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय की आगामी कुछ दिनों में जारी होने वाले दिशा-निर्देशों का अध्ययन कर समुचित फैसला लिया जाएगा।  

राज्य सरकार ने कोरोना महामारी के संक्रमण की स्थिति के मद्देनजर इस साल प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों व तकनीकी शिक्षण संस्थानों में स्नातक व स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों की परीक्षाएं नहीं कराने का फैसला लिया है.
निवास पर एक उच्च स्तरीय मीटिंग में यह फैसला लिया गया.

बैठक में उच्च एजुकेशन प्रदेश मंत्री भंवर सिंह भाटी, तकनीकी एजुकेशन प्रदेश मंत्री  सुभाष गर्ग, मुख्य सचिव  राजीव स्वरूप, अलावा मुख्य सचिव वित्त निरंजन आर्य, उच्च एजुकेशन सचिव श्रीमती शुचि शर्मा, सूचना एवं जनसम्पर्क आयुक्त महेन्द्र सोनी सहित अन्य ऑफिसर मौजूद थे।