प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस से अच्छा हुए लोगो को लेकर किया यह बड़ा निर्णय 

प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस से अच्छा हुए लोगो को लेकर किया यह बड़ा निर्णय 

अब अस्पतालों में भर्ती कोरोना वायरस से अच्छा हो जाएंगे तो उन्हें सरकारी एंबुलेंस से घर नहीं छोड़ा जाएगा. इसके साथ अन्य रोगियों को भी घर जाने के लिए एम्बुलेंस नहीं मिलेगी. यह निर्णय प्रदेश सरकार ने किया है.

इस सिलसिले में नेशनल हेल्थ मिशन के निदेशक विजय विश्वास पंत ने सभी सीएमओ को लेटर भेजा है. मिशन निदेशक के इस आदेश के बाद कोरोना से वायरस से अच्छा हुए मरीजों को अपने घर पहुंचने में अत्यन्त दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

मिशन निदेशक ने आदेश दिए हैं कि 108 व जीवन सपोर्ट एंबुलेंस अभी तक कोरोना के किसी भी मरीज व अन्य मर्ज  के रोगियों को घर भेजने के लिए प्रयोग हो रही थीं, लेकिन अब किसी भी मरीज को घर नहीं पहुंचाएंगी. ये एम्बुलेन्स कोरोना के गंभीर मरीजों व आकस्मिक चिकित्सा वाले रोगियों को घर से  लाने के लिए प्रयोग की जाएंगी. अब तक ये एंबुलेंस कोरोना वायरस से अच्छा हो गए मरीजों व अन्य रोगियों को  अस्पताल से घर तक पहुंचाने में प्रयोग हो रही थीं. इसके चलते कोरोना के गंभीर व आकस्मिक चिकित्सा के मरीजों को लाने में विलम्ब होता है.

अपने आदेश में विजय विश्वास पंत ने यह भी बोला  है कि यदि किसी मरीज को एंबुलेंस से घर तक  बहुत पहुंचाना महत्वपूर्ण हुआ तो इसके लिए मिशन निदेशक या चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग के महानिदेशक से अनुमति लेनी होगी.