मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने श्रीलंका को लेकर किया था यह एलान

मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने श्रीलंका को लेकर किया था यह एलान

टीम इंडिया ने अगस्त 1997 में श्रीलंका का दौरा पूरा किया था. दोनों देशों के मध्य उस वक़्त पहले दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जानें वाली थी और फिर वनडे सीरीज शुरू हो गई थी.

टेस्ट सीरीज के पहले मुकाबले में एक इतिहास बना दिया था, जो कि आज तक वर्ल्ड रिकॉर्ड है. मेजबान श्रीलंकाई टीम ने सीरीज के पहले मैच में इंडिया के विरुद्ध टेस्ट मैच की एक पारी में सबसे बड़ा स्कोर जड़ दिया था. हालांकि, उस मैच का नतीजा ड्रॉ रहा था, लेकिन वर्ल्ड रिकॉर्ड को लोग आज भी उतना ही याद करते है.

लेकिन सचिन तेंदुलकर की कप्तानी वाली टीम इंडिया और श्रीलंका के मध्य 2 अगस्त 1997 को 2 मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मैच का एलान किया जा चुका था. कोलंबो को आर. प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने 167.3 ओवर में बेटिंग करते हुए 8 विकेट की हानि पर 537 रन बनाए थे और पारी का एलान कर दिया. मैच के दूसरे दिन के अंतिम सत्र में भारत ने श्रीलंका को बेटिंग के लिए आमंत्रित किया. 

इंडिया की तरफ से इस मुकाबले में कप्तान सचिन तेंदुलकर ने 143 रन, मोहम्मद अजहरुद्दीन ने 126 रन और नवजोत सिद्धू के 111 रन का मैच खेला. राहुल द्रविड़ ने भी अर्धशतक बना कर लोगों का दिल जीता. ऐसा कहा जा रहा था कि इस मुकाबले में टीम इंडिया का पलड़ा भारी था, लेकिन ऐसा हो नहीं पाया. श्रीलंकाई टीम के सामने 500 से अधिक रन का टारगेट था. ऐसे में सनथ जयसूर्या और मार्वन अट्टापट्टू ओपनिंग करने उतरे, लेकिन अट्टापट्टू 26 रन बनाकर आउट हो गए.