गुरु दत्त से संबंध का सिंगिंग कॅरियर पर पड़ा बुरा असर

गुरु दत्त से संबंध का सिंगिंग कॅरियर पर पड़ा बुरा असर

बॉलीवुड की खूबसूरत गायिका गीता दत्त (Geeta Dutt) इंडस्ट्री में अपनी एक अलग तरह की गायकी के लिए पहचानी जाती हैं. उनके गाने की स्टाइल सबसे अलग थी. उन्होंने जो भी गाना गाया वो उन्हीं का होकर रह गया. गीता का जन्म, 1930 में हुआ था. वह बॉलीवुड की फेेमस प्लेबैक सिंगर्स में से एक रही हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं गुरु दत्त (Guru Dutt) से संबंध के चलते सिंगर गीता दत्त (Geeta Dutt) को बड़ी मूल्य चुकानी पड़ी थी. दरअसल, गुरु दत्त से विवाह करने वाली गीता दत्त की शादीशुदा जिंदगी में ऐसे उतार-चढ़ाव आए कि उनका बना बनाया सिंगिंग कॅरियर बर्बाद हो गया.

Image result for खूबसूरत गायिका गीता दत्त

आज उनकी बर्थ एनिर्वसरी के मौके पर जानते हैं उनके व्यक्तिगत व प्रोफेशनल जीवन से जुड़े कुछ दिलचस्प फैक्ट्स

उतार-चढ़ावों भरा रहा शादीशुदा जीवन
गीता दत्त का फिल्मी सफर जितना पास रहा उनका शादीशुदा ज़िंदगी उतना ही विफल रहा था. उन्होंने प्रसिद्ध एक्टर, डायरेक्टर गुरु दत्त से विवाह की थी. मगर दोनों का शादीशुदा रिश्ता जिंदगी भर उतार-चढ़ावों से भरा रहा.

गीता ने वर्ष 1947-1949 के बीच बॉलीवुड में बतौर प्लेबैक सिंगर राज किया था. लेकिन व्यक्तिगत जिंदगी में गुरु दत्त से बेकार संबंध के चलते धीरे-धीरे उनका सिंंगिंग कॅरियर पीछे छूटता चला गया. गुरु दत्त व उनके प्यार में जब खटास आने लगी तब इसका प्रभाव गीता के प्रोफेशल कॅरियर पर भी पड़ा था.

रिकॉर्डिंग करते वक्त हुई गुरु दत्त से मुलाकात
बता दें फिल्म 'बाजी' के लिए रिकॉर्डिंग करते वक्त गीता दत्त, गुरु दत्त से पहली बार मिली थीं. धीरे-धीरे दोनों के बीच प्यार पनपा व 26 मई, 1953 में दोनों ने विवाह कर ली. गीता वगुरु दत्त के 3 बच्चे हैं.

वहीदा की वजह से गीता की शादीशुदा जिंदगी में हुआ बवाल
गीता दत्त की शादीशुदा जिंदगी में उस समय भूचाल आया जब गुरु दत्त का नाम एक्ट्रेस वहीदा रहमान से जुड़ा. तभी से दोनों के रिश्तों में तल्खियां आने लगीं. समाचार है कि गुरु दत्त, वहीदा को लेकर फिल्म बनाना चाहते थे, लेकिन अफेयर की खबरों से नाराज गीता ने उनके साथ फिल्म करने से इन्कार कर दिया था. इस बीच गीता का धीरे-धीरे गानों को लेकर रवैया ढीला हो गया व वह पारिवारिक समस्या में ऐसी उलझी की अपनी अनुशासनहीनता के चलते उन्हें कई प्रोजेक्ट्स से हाथ धोना पड़ा.

16 की आयु में गाया पहला गाना
बता दें कि गीता ने 16 वर्ष की आयु में फिल्म के लिए गाना गाया था. 1947 में हनुमान प्रसाद ने धार्मिक फिल्म 'भक्त प्रहलाद' में उन्हें लॉन्च किया था. हालांकि, उन्हें इस फिल्म में कुछ गानों की बस दो लाइनें गाने को मिली थी. लेकिन उनकी मधुर आवाज में गाई चंद लाइनों ने सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया था.