2 डायबिटीज को प्रबंधित करने में मदद कर सकता है शकरकंद

2 डायबिटीज को प्रबंधित करने में मदद कर सकता है शकरकंद

शकरकंद फाइबर का एक समृद्ध स्रोत होने के साथ-साथ आयरन, कैल्शियम, सेलेनियम सहित विटामिन व मिनरल्स की भी एक सरणी है. यह हमारे शरीर को विटामिन-बी व विटामिन सी प्रदान करता है. शकरकंद में एंटीऑक्सीडेंट उच्च मात्रा में उपस्थित होता है, साथ ही इसमें बीटा-कैरेटिन भी होता है जो शरीर को कई स्वास्थ्य फायदा प्रदान करता है. शकरकंद को लेकर कई लोगों के दिमाग में यह सवाल रहता है कि क्या डायबिटीज के लोगों के लिए इसे अपनी डाइट में शामिल करना ठीक है? आइए हम आपको इस सवाल का जवाब बताते हैं, साथ ही शकरकंद के अन्य लाभों की भी जानकारी देते हैं.

क्या शकरकंद टाइप 2 डायबिटीज को प्रबंधित करने में मदद कर सकता है?
यह एक ऐसा क्षेत्र है, जिसे व अधिक शोध की जरूरत है, लेकिन कुछ अध्ययनों से पता चला है कि शकरकंद व शकरकंद की पत्तियों के मध्यम सेवन से टाइप 2 डायबिटीज में ब्लड शुगर के नियमन में सुधार होने कि सम्भावना है.

क्या शकरकंद आंखों के स्वास्थ्य के लिए अच्छा है?
फूड एंड न्यूट्रिशन रिसर्च के एक अध्ययन में पाया गया है कि शकरकंद में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जिन्हें एंथोसायनिन के रूप में भी जाना जाता है जो आंखों के लिए लाभकारी होते हैं. यह तत्व आंखों की लाइट को तेज करने में मदद करता है, साथ ही आंखों की अन्य समस्याओं को भी दूर करता है.

क्या शकरकंद पाचन के लिए अच्छा होता है?
शकरकंद में फाइबर अधिक होता है, जो एक स्वस्थ पाचन तंत्र को बढ़ावा देने के लिए जाना जाता है. अब तक किए गए अधिकतर शोध में यह पाया गया है कि शकरकंद की उच्च फाइटोस्टेरॉल सामग्री पाचन तंत्र पर सुरक्षात्मक असर डालती है व गैस्ट्रिक अल्सर की रोकथाम व प्रबंधन में जरूरी हो सकती है. इसलिए हर किसी को अपनी डाइट में शकरकंद शामिल करना चाहिए.