पक्षी मुंबई जा रही विस्तारा फ्लाइट से टकराया, विमान की हुई आपात लैंडिंग

पक्षी मुंबई जा रही विस्तारा फ्लाइट से टकराया, विमान की हुई आपात लैंडिंग

यूपी के वाराणसी में मुंबई के विमान में बर्ड हिटिंग की समाचार से हड़कंप मच गया. वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट पर मुंबई जा रही विस्तारा की फ्लाइट से पक्षी टकरा जाने से रनवे पर ही इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी. सभी यात्री सुरक्षित बताए गए हैं. आपात लैंडिंग के बाद विमान में आई खराबी को ढूंढने के लिए तकनीकी टीम मौके पर दौड़ पड़ी. 

जानकारी के अनुसार विस्तारा एयरलाइंस की UK 622 फ्लाइट शुक्रवार को शाम 4:10 बजे उड़ान भरने जा रही थी. उड़ान भरने के दौरान ही विमान के नोज से पक्षी टकरा गया. विमान के पायलट ने तुरन्त वाराणसी एटीसी के अधिकारियो से संपर्क कर  भरते ही कुछ देर बाद विमान की आपात लैंडिंग एयरपोर्ट पर कराई गई. विमान में लगभग 101 यात्री सवार थे.

एयरपोर्ट से उड़ान भरते ही पायलट को विमान में किसी पक्षी के टकरा जाने का अंदेशा हुआ.जिसे लेकर पायलट ने तुरन्त एटीसी ऑफिसरों से संपर्क कर विमान से पक्षी टकराने की सूचना दी एटीसी से अनुमति मिलने के बाद शाम 4:40 बजे विमान की आपात लैंडिंग कराई गयी.एयरपोर्ट पर विमान के सब कुशल उतरने के बाद विमान मे सवार सभी यात्रियों ने राहत की सांस ली.एयरलाइंस जानकारों की टीम के द्वारा पक्षी टकरा जाने से आई खराबी को दूर करने का कोशिश किया जा रहा है.

ने वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से मुंबई जाने के लिए उड़ान भरी थी. उड़ान भरने के कुछ समय बाद ही फ्लाइट से कोई पक्षी टकरा गया. पक्षी टकरा जाने से विमान में कुछ खराबी आ गई. इसके बाद विमान की इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी. हालांकि फ्लाइट में बैठे सभी यात्री सुरक्षित बताए गए हैं. आपात लैंडिंग की समाचार पर तकनीकी टीम मौके पर दौड़ पड़ी.  

दो दिन पहले प्रयागराज में सेना के चीता हेलीकॉप्टर की हुई थी आपात लैंडिंग

दो दिन पहले प्रयागराज में सेना के चीता आपात लैंडिंग कराई गई थी. यह हेलीकॉप्टर रांची से प्रयागराज आ रहा था. उड़ान के दौरान पायलटों को हेलीकॉप्टर में तकनीकी खराबी का पता चला था. इसके बाद पायलटों ने करछना के बेंदौ गांव के पास दोपहर 12 बजे हेलीकॉप्टर उतार दिया. हेलीकॉप्टर में आई खराबी की सूचना प्रयागराज स्थित सेना स्टेशन को दी गई. जिसके बाद सेना स्टेशन से दो हेलीकॉप्टर से तकनीकी टीम भेजी गई. इस दौरान गांव के पास हेलीकॉप्टर की अचानक लैंडिंग देख लोगों की भीड़ एकत्र हो गई. इसबीच सेना की तकनीकी टीम पहुंची और हेलीकॉप्टर में तकनीकी खराबी को ठीक करना प्रारम्भ कर दिया. हेलीकॉप्टर की तकनीकी खराबी ठीक करने के लिए वायुसेना की भी सहायता ली गई.