डायरेक्टर अनुभव सिन्हा ने नेपोटिज्म पर दिया चौंकाने वाला बयान

डायरेक्टर अनुभव सिन्हा ने नेपोटिज्म पर दिया चौंकाने वाला बयान

नयी दिल्ली: फिल्मकारका मानना है कि अदाकार सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु के बाद इंडस्ट्री में भाई-भतीजावाद के मामले को आवश्यकता से कहीं ज्यादा तूल दिया जा रहा है। सिन्हा ने कहा, 'नेपोटिज्म पर चर्चा आवश्यकता से ज्यादा है। यह हर कहीं उपस्थित है व मैं ऐसा पहले दिन से कहता आ रहा हूं। कुछ ज्यादा ही इस पर बातें हो रही हैं। '

इंडस्ट्री में उपस्थित है फेवरिटज्‍म
अनुभव सिन्हा ने फेवरिटज्‍म के मामले पर बात की व यह भी बोला कि हाल ही में उत्पन्न हुए शब्द 'मूवी माफिया' से बेहद अवगत नहीं रहे हैं। फिल्म 'थप्पड़' के निर्देशक आगे कहते हैं, 'माफियाओं की बात करूं, तो इंडस्ट्री के परिप्रेक्ष्य में मैंने इस शब्द को ज्यादा नहीं सुना है। हां, फेवरिटज्‍म व बुली करना इस इंडस्ट्री में उपस्थित है व ऐसा हर कहीं होता है, लेकिन हमें अपने साथी कलाकारों के बारे में अधिक ध्यान बरतने की जरूरत है। हमें एक-दूसरे का ख्याल रखना है व दोस्ताना पूर्ण तरीका से कार्य करना है। '

कंगना ने मूवी माफिया के विरूद्ध छेड़ी जंग
सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु के बाद से ही अदाकारा कंगना रनौत लगातार ट्वीट कर अपनी बात कह रही हैं। परिवारवाद व खेमेबाजी जैसे मामले थमने का नाम नहीं ले रहा हैं। कंगना रनौत ने 'मूवी माफिया' के खिलाड़ एक जंग छेड़ दी है।