सनकी व्यक्ति ने प्रेमिका समेत 3 को उतारा मृत्यु के घाट, बहन गंभीर रूप से घायल

सनकी व्यक्ति ने प्रेमिका समेत 3 को उतारा मृत्यु के घाट, बहन गंभीर रूप से घायल

बुधवार की देर शाम नगर कोतवाली क्षेत्र के इमलिया गुरदयाल गांव में एक तरफा प्रेम में व्यक्ति ने घटना को अंजाम देने के बाद बाइक से फरार हो गया. मृतक प्रेमिका की भाभी ने लक्ष्मी ने बताया कि करीब डेढ़ वर्षो से एक लड़का मेरी ननद शिल्पा देवी को बहुत ज्यादा परेशान करता था. वह उससे जबरन विवाह करना चाहता था. लेकिन इधर हमारे सास और ससुर ने दूसरी स्थान ननद की विवाह तय कर दी. जिससे वह व्यक्ति बहुत ज्यादा नाराज था. बुधवार की प्रातः काल से ही फोन कर रहा था. शाम को आया मोटरसाइकिल से हेलमेट लगाकर उतरा और सीधे छत पर चला गया. वहां पर उसने चाकू और बंदूक लेकर आया था उससे हमला कर मेरे ससुर सास ननंद और छोटी ननंद को मार दिया.

 जब वह मार रहा था. इसी बीच सास ने फोन कर बताया कि अपने घर का दरवाजा बंद भैया को बचा लो. मैंने अंदर से अपने घर का चैनल बंद कर लिया. वह मारने के बाद फिर बाइक से चला गया. जिससे मेरे ससुर देवीप्रसाद 65 साल पार्वती देवी 55 साल शिल्पा 25 साल की मृत्यु हो गई. जबकि उसकी छोटी बहन उपासना गंभीर रूप से घायल है. जिसका उपचार हॉस्पिटल में चल रहा है. देवीपाटन मंडल के डीआईजी ने बताया अभी जो जानकारी मिली है. उसके अनुसार यह प्रेम प्रसंग का केस है. सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंच गई है. जाँच की जा रही है. पता चला है एक लड़का जो विवाह करना चाहता था. उसी ने अपने साथियों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया है. इसमें 3 लोगों की मृत्यु हो गई है. जबकि एक लड़की घायल है. उसको बेहतर उपचार के लिए लखनऊ रिफर किया जा रहा. इसमें कई टीमों को लगाकर गहनता से जाँच की जा रही है. आगे जो भी जानकारी मिलेगी उसे साझा किया जाएगा.

हत्यारोपी व्यक्ति पर पुलिस ने घोषित किया 50 हजार का पुरस्कार

पुलिस ने घटना का खुलासा करने के लिए मर्डर आरोपी व्यक्ति अशोक कुमार पुत्र राम हेतु की फोटो जारी करते हुए 50 हजार रुपए का पुरस्कार घोषित किया है. जानकारी देने वाले आदमी को यह रकम दी जाएगी. आरोपी उन्नाव जनपद के थाना थाना बीघापुर धानीखेड़ा का रहने वाला है.


ब्लाउज सिलने पर पति से हुआ ऐसा झगड़ा कि महिला ने फांसी लगाकर दी जान

ब्लाउज सिलने पर पति से हुआ ऐसा झगड़ा कि महिला ने फांसी लगाकर दी जान

हैदराबाद में 35 साल की एक पत्नी ने आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि इस महिला का अपने पति के साथ ब्लाउज को लेकर विवाद हुआ था जिसके बाद उसने यह आत्मघाती कदम उठा लिया। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विजयलक्षमी अपने पति श्रीनिवास के साथ अम्बरपेट के गोलनाका थिरुमाला नगर में रहती थी। पति के साथ विवाद के बाद विजयलक्षमी की लाश उसके घर में पड़ी मिली थी। 

बताया जा रहा है कि श्रीनिवास घर-घर जाकर साड़ी और ब्लाउज बनाने का सामान बेचा करता था। इसके अलावा वो घर पर ब्लाउड सिलने का काम भी करता था। श्रीनिवास ने अपनी पत्नी के लिए एक ब्लाउज बनयाा था। लेकिन विजयलक्षमी इस ब्लाउज को लेकर नाखुश थीं। जिसके बाद विजयलक्षमी ने अपने पति को दोबारा ब्लाउज सिलने के लिए कहा।

इसके बाद श्रीनिवास ने अपनी पत्नी से कहा कि वो इसे खुद ही सील लें। लेकिन विजयलक्षमी को पति की यह बात बेहद नागवार गुजरी। इसके बाद विजयलक्षमी ने अगले दिन खुद को एक कमरे में बंद कर लिया। जब उनके बच्चे अगले दिन स्कूल से वापस आए तब उन्होंने देखा कि कमरा अभी तक बंद था। 

अदंर से कोई भी आवाज नहीं आने पर महिला के पति को इस बारे में सूचना दी गई। इसके बाद घर पहुंचने के बाद श्रीनिवास ने जबरन कमरे का दरवाजा खोला। लेकिन कमरे के अंदर दाखिल होने के बाद उसके होश उड़ गये। विजयलक्षमी की लाश कमरे के अंदर फंदे से झूल रही थी। पुलिस ने बताया कि विजयलक्षमी के पति ने कहा है कि जब कभी उनकी पत्नी परेशान होती थीं तब वो खुद को कमरे के अंदर बंद कर लेती थी। इसलिए उन्हें इस बात की आशंका नहीं है कि यह कोई अन्य वारदात हुई है। इस मामले में फिलहाल पुलिस ने अपनी आगे की पड़ताल शुरू कर दी है।