सचिन तेंदुलकर ने जाने क्यो भारतीय क्रिकेट के मोहम्मद कैफ का नाम भाई साहब रखा, जाने खबर

 सचिन तेंदुलकर ने जाने क्यो भारतीय क्रिकेट के मोहम्मद कैफ का नाम भाई साहब रखा, जाने खबर

 भारतीय क्रिकेट (Indian Cricket) में मोहम्मद कैफ (Mohammad Kaif) का नाम जब भी लिया जाता है, जेहन वर्ष 2002 में खेली गई नेटवेस्ट सीरीज की यादें ताजा हो जाती हैं। 

आखिरकार युवराज सिंह (Yuvaraj Singh) के साथ मिलकर 326 रन के लक्ष्य को बिना कैफ के शानदार शतक के हासिल करना मुमकिन थोड़े था। ये व बात है कि सिर्फ बल्लेबाजी ही नहीं, मोहम्मद कैफ का भारतीय टीम में सम्मान उनकी फील्डिंग के लिए भी किया जाता था। उस समय कैफ टीम इंडिया के सर्वश्रेष्ठ फील्डर थे, जिनकी फुर्ती व चपलता देखने लायक होती थी। कैफ व युवराज सिंह ने तब टीम इंडिया में फील्डिंग की परिभाषा ही बदलकर रख दी थी।

मोहम्मद कैफ (Mohammad Kaif) को लेकर अब महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने पुरानी यादें ताजा की हैं। कैफ व सचिन ने हाल ही में रोड सेफ्टी दुनिया सीरीज में भाग लिया था। इस सीरीज में वेस्टइंडीज की टीम के विरूद्ध मैच को याद करते हुए सचिन तेंदुलकर ने मोहम्मद कैफ की फील्डिंग की जमकर तारीफ की।

भाई साहब, थोड़ा संभलकर
इस वीडियो में सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने बताया कि उन्होंने कैफ (Mohammad Kaif) को बोला कि उन्हें फील्डिंग के दौरान सावधानी बरतनी चाहिए। सचिन के अनुसार, हमें कैफ को बताना पड़ रहा था कि थोड़ी सतर्कता बरतो। हमने उन्हें मजाक में भाई साहब नाम दिया है। जब कैफ ने फील्डिंग के दौरान शानदार डाइव लगाई तो मैंने उनसे कहा, भाई साहब थोड़ा संभल कर। ये पहला ही मैच है। अभी व भी मैच खेले जाने हैं।



सचिन बोले-असाधारण फील्डरों में से हैं कैफ
सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने साथ ही बताया कि मैंने उनसे पूछा कि हैमस्ट्रिंग खिंच गई तो क्या होगा। उन्हें लगता है कि अगर आप फिट हैं तो अपने कोशिश जारी रखने चाहिए। वह जबरदस्त फिट हैं। वह टीम के असाधारण फील्डरों में हैं। बता दें कि कोरोना वायरस (Coronavirus) पीड़ितों की मदद के लिए सचिन तेंदुलकर ने 50 लाख रुपये की आर्थिक मदद दी थी। इस महामारी से हिंदुस्तान में करीब 600 लोगों की अब तक जान जा चुकी है।