Motivational: सौरव गांगुली ने सिराज के जज्बे को किया नमस्कार

Motivational: सौरव गांगुली ने सिराज के जज्बे को किया नमस्कार

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद सिराज के जज्बे को नमस्कार किया जाना चाहिए. इस समय वे ऑस्ट्रेलिया में हैं. यहां पर वे क्रिकेट सीरीज खेलने आए हैं. पिता के मृत्यु की समाचार के मिलने के बाद भी तेज गेंदबाज ने देश लौटने से मना कर दिया.

बीसीसीआई के सचिव जय शाह का बोलना है कि बोर्ड ने उन्हें देश लौटने का विकल्प दिया था मगर उन्होंने इससे मना कर दिया. सिराज ने टीम के साथ रहने का निर्णय लेते हुए राष्ट्रीय कर्तव्य को निभाना महत्वपूर्ण समझा.

बीसीसीआई ने घर जाने का विकल्प दिया था

बीसीसीआई ने सिराज के साथ चर्चा की और दुख की इस घड़ी में उन्हें अपने परिवार के साथ होने के लिए हिंदुस्तान जाने का विकल्प दिया गया. बीसीसीआई के सचिव जय शाह का बोलना है कि 'इस तेज गेंदबाज ने भारतीय दल के साथ बने रहने और अपने राष्ट्रीय कर्तव्यों को निभाने का निर्णय किया है. बीसीसीआई उनके दुख को साझा करता है और इस चुनौतीपूर्ण समय में सिराज का समर्थन करेगा'.

सौरव गांगुली ने की तारीफ

बोर्ड अध्यक्ष सौरव गांगुली ने इस त्रासदी में जीवटता और मजबूत मानसिकता दिखाने को कहा. उन्होंने हैदराबाद के इस तेज गेंदबाज की जमकर सराहना की है. उन्होंने ट्वीट कर बोला कि,‘मोहम्मद सिराज को इस हालात का सामना करने के लिए भगवान मजबूती दे. मैं इस दौरे पर उनकी सफलता को लेकर शुभकामनाएं देता हूं. जबरदस्त जीवटता.

पिता फेफड़ों की रोग से जूझ रहे थे

बताते चलें कि बीते शनिवार को सिराज के 53 वर्षीय पिता मोहम्मद गौस का मृत्यु हैदराबाद हो गया. वे फेफड़ों की रोग से जूझ रहे थे. उनका उपचार चल रहा था. इस दौरान सिराज को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाना पड़ा. वे टीम इंडिया का भाग हैं और क्वारंटीन में हैं.

बेटे के करियर के लिए कड़ी मेहनत की

आज सिराज जिस मुकाम पर पहुंचे हैं, इसमें उनके पिता का अहम सहयोग रहा है. ऑटो चालक पिता ने अपने बेटे के करियर के लिए कड़ी मेहनत की. सिराज के खेल में कोई बाधा न आए, इसलिए उन्होंने कोई कमी महसूस नहीं होने दी. सीमित संसाधनों के बावजूद उन्होंने अपने बेटे की महत्वाकांक्षाओं का समर्थन किया.

ये बहुत ही दुखद पल है: सिराज

सिराज का बोलना है कि 'मेरे पिता का हमेशा से सपना था कि मैं देश का नाम रोशन करूं और वो मैं जरूर करूंगा. मैंने अपनी जीवन के सबसे बड़े समर्थक को खो दिया है, ये बहुत ही दुखद पल है. मुझे देश के लिए खेलते देखना उनका सपना था. मैं खुश हूं मैं उन्हें समझ सका और उन्हें खुश कर सका.'

सिराज ने एक साक्षात्कार बोला था कि उनके पिता हमेशा से उनके खेल में भूरपूर योगदान करते रहे हैं. उन्हें अच्छे से अच्छे जूते लाकर दिया करते थे. पिता चाहते थे कि वे एक बेहतरीन गेंदबाज बने.

सिराज का अब तक का सफर

सिराज ने हैदराबाद की गलियों में खेलते हुए टीम इंडिया में अपनी स्थान बनाई. सिराज 2016-17 में रणजी सीजन में 41 विकेट लेकर भारतीय प्रीमियर लीग में 2.6 करोड़ की बड़ी मूल्य पर बिके थे. सिराज ने वर्ष 2017 में ही हिंदुस्तान के लिए टी20 में पहली बार खेले. 2019 में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध वनडे शुरूआत की. इस समय वे ऑस्ट्रेलिया दौरे पर हैं.


न्यूजीलैंड टीम के पूर्व कोच ने बताया, WTC फाइनल में कौन होगा भारतीय टीम के लिए एक्स फैक्टर

न्यूजीलैंड टीम के पूर्व कोच ने बताया, WTC फाइनल में कौन होगा भारतीय टीम के लिए एक्स फैक्टर

ICC विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल को लेकर न्यूजीलैंड के पूर्व दिग्गज कोच माइक हेसन ने एक बड़ा दावा किया है। माइक हेसन ने भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत को न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले आगामी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के लिए टीम इंडिया के एक्स फैक्टर के तौर पर देखा है। पंत ऑस्ट्रेलिया के बाद भारत में टेस्ट क्रिकेट में जो बल्ले से कोहराम दिखाया है, उसने सभी को प्रभावित किया है।

दिग्गज कोच हेसन ने कहा है, "ड्यूक बॉल स्पिन गेंदबाजों को हमेशा पसंद आती है, क्योंकि सीम ऊपर होती है। टीम इंडिया में ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा के होने से बैलेंस अच्छा रहेगा। इससे टीम को पांच गेंदबाज मिल जाते हैं। इतना ही नहीं बाएं और दाएं हाथ के बल्लेबाज के खिलाफ भी फायदा मिलता है। न्यूजीलैंड में पांच बाएं जबकि छह दाएं हाथ के बल्लेबाज हैं।"


न्यूजीलैंड टीम के कप्तानी कोच पद को वर्ल्ड कप 2019 के बाद छोड़ने वाले माइक हेसन ने कहा कि पंत ने ऑस्ट्रेलिया में शानदार प्रदर्शन किया था। उनको अधिक आत्मविश्वास आ गया है। इस कारण वह जैसा खेलना चाहते थे, उस तरह खेल रहे हैं। उन्हें खेलते देखना मुझे भी पंसद है। रिषभ पंत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो टेस्ट मैचों में अहम पारियां खेली थीं, जहां टीम एक मैच जीतने में सफल रही थी, जबकि एक मैच में पंत ने टीम को हार से बचाया था।


उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड की टीम डब्ल्यूटीसी फाइनल में चार तेज गेंदबाजों के साथ उतर सकती है। पांचवें गेंदबाज के तौर पर कोलिन ग्रैंडहोम या बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज मिशेल सेंटनर को शामिल किया जा सकता है। इंग्लैंड के खिलाफ पदार्पण टेस्ट में दोहरा शतक लगाने वाले डेवन कॉनवे को लेकर उन्होंने कहा कि वह सीमित ओवरों के क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे। ऐसे में मुझे उनके प्रदर्शन में पर कोई आश्चर्य नहीं हुआ।


Covid-19: बिहार में ब्लैक फंगस से अब तक 76 की मौत       16 जून से बिहार के लोगों को मिलेगी छूट या बढ़ेगी पाबंदी       बिहार में कोविड-19 से आठ मरीजों की मौत, इतने नए मुद्दे आए सामने       इन इलाकों में होगी भारी बारिश, समय से पहले पहुंचा मानसून       यूपी में आज से रेहड़ी-पटरी दुकानदारों के लिए विशेष टीकाकरण अभियान       महंगाई को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर भड़की मायावती, बोलीं...       सीएम योगी का निर्देश, कोरोना संक्रमण को लेकर अभी भी रहें गंभीर       हाल कोडरमा अंचल कार्यालय का, आम आदमी का नहीं हो रहा है कोई काम,आरटीआई कार्यकर्ता ने एसीम को लिखा पत्र       युद्ध के लिए हम तैयार हैं, चीन की सेना PLA ने ताइवान को दी धमकी       धरती पर हैं चार नहीं, पांच महासागर? अंटार्कटिका के पास है कुछ सबसे अनोखा       OMG! इस प्रदेश में कुत्तों से अधिक खूंखार बिल्लियां, अभी तक इतने लोग हुए शिकार       पौष्टिक आहार, पढ़ाई और प्यार, बच्चों के लिए अत्यंत अनिवार्य: शालिनी गुप्ता,  बाल श्रम उन्मूलन दिवस पर पारहो में फूड न्यूट्रिशन किट का किया वितरण        Muslim Lawmaker Ilhan Omar ने US और Israel की तुलना तालिबान से कर डाली       दुनिया के सबसे शक्तिशाली राष्ट्राध्यक्षों की मुलाकात की तैयारियां पूरीं       अमेरिका में फेडरल जज बनने वाले पहले मुस्लिम बने जाहिद कुरैशी       70 दिन बाद कोविड-19 के सबसे कम केस, 24 घंटे में आए 84 हजार मामले, 4002 की मौत       कैसे डोनाल्ड ट्रंप को दी गई दवा कोविड-19 के मरीजों में जगा रही है उम्मीद?       PM मोदी से मुलाकात कर बहुत खुश हुए सीएम योगी, ट्वीट कर कही ये बड़ी बात       राजनाथ सिंह ने किया 'खामोश महामारी' का जिक्र, बोले...       अखिलेश यादव ने कहा कि बंदरबांट में उलझी बीजेपी सरकार से जनता को कोई आशा नहीं