अजब-गजबः स्कूल में जाने कहां से आया 'भूत', क्लास में घुसते ही बेहोश हो जाती हैं लड़कियां

अजब-गजबः स्कूल में जाने कहां से आया 'भूत', क्लास में घुसते ही बेहोश हो जाती हैं लड़कियां

जशपुर  छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले के एक गर्ल्स हाईस्कूल में इन दिनों अजब-गजब घटनाएं हो रही हैं इस स्कूल में किसी भूत-प्रेत का साया पड़ने की कहानियां सुनाई जाने लगी हैं दरअसल, अंधविश्वास से भरी इन कहानियों का आधार वह घटनाएं हैं, जो स्कूल में पढ़ने वाली छात्राओं के साथ हाल के दिनों में हुई हैं स्कूल में पढ़ने वाली कई छात्राएं इन दिनों अजीब-अजीब हरकतें करने लगी हैं कथित भूत-प्रेत के साये के कारण ये छात्राएं कक्षा में आते ही बेहोश हो जा रही हैं पिछले कुछ दिनों में कई छात्राओं को बेहोशी के दौरान ही पास के हॉस्पिटल ले जाया गया, लेकिन वहां जाँच के बाद कुछ पता नहीं चला अब प्रशासन ने एक मेडिकल टीम से स्कूल की सभी छात्राओं के स्वास्थ्य की जाँच कराने की बात कही है

यह पूरा केस जशपुर के बगीचा गर्ल्स हाईस्कूल का है, जहां पिछले कुछ दिनों से 11वीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्राओं के बेहोश होने की खबरें आ रही हैं बताया गया कि बगीचा कन्या हाईस्कूल की 11वीं साइंस में पढ़ने वाली छात्राओं में अजीब लक्षण दिख रहे हैं वे स्कूल में अजीबो-गरीब हरकतें करती हैं कक्षा में बैठे-बैठे ही आकस्मित उनकी तबीयत बेकार हो जा रही है और वह बेहोश हो जाती हैं ऐसी कुछ घटनाओं के बाद पीड़ित छात्राओं के जब पास के हॉस्पिटल ले जाकर जाँच कराया गया, तो वहां सब कुछ सामान्य निकला लेकिन उसके बाद भी ऐसी घटनाएं हुईं तो आसपास के इलाके में दहशत फैल गई अभिभावक अपनी बच्चियों को स्कूल भेजने से डरने लगे हैं

Jashpur School News: बगीचा कन्या हाईस्कूल में छात्राओं के बेहोश होने की घटनाओं को लोग भूत-प्रेत से जोड़कर देखने लगे हैं

मनगढ़ंत कहानी गढ़ने लगे लोग

छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले के बगीचा कन्या हाईस्कूल में भूत-प्रेत का साया होने की बात पर आसपास के इलाके में मनगढ़ंत कहानियां भी गढ़ी जाने लगी हैं अंधविश्वास की जाँच पड़ताल के बजाये लोग, स्कूल परिसर में मृत्यु के बाद आत्माओं के घूमने की बातें करने लगे हैं लोकल लोगों ने बताया कि कुछ दिन पहले स्कूल के एक चपरासी की मृत्यु हो गई थी स्कूल की छत से गिरकर चपरासी की मौत की घटना को लोग भूत-प्रेस से जोड़कर देखने लगे हैं इन कहानियों से इस कदर दहशत फैल गई कि कई अभिभावकों ने अपनी बच्चियों को स्कूल भेजना बंद कर दिया है

– 

स्कूल में प्रारम्भ हुआ झाड़-फूंक

11वीं साइंस में पढ़ने वाली छात्राओं के ऊपर कथित भूत-प्रेत का साया होने की बात से दहशत फैली तो लोकल लोगों ने स्कूल में झाड़-फूंक कराने की सलाह दी नतीजा ये हुआ कि इन दिनों बगीचा कन्या हाईस्कूल में अगरबत्ती जलाकर पूजा-पाठ करने के बाद कक्षाएं लग रही हैं इधर, लगातार हो रही घटनाओं के बाद जब केस आला अफसरों तक पहुंचा, तो प्रशासन भी सावधान हुआ  घटना की जानकारी मिलने पर विकास खण्ड एजुकेशन ऑफिसर एमआर यादव स्कूल पहुंचे और वहां शिक्षकों से वार्ता कर पूरी जानकारी ली उन्होंने बोला कि स्कूल में मेडिकल टीम बुलाकर सभी बच्चों के स्वास्थ्य की जाँच कराई जाएगी


बांग्लादेश में हिंदुओं से ज्यादती: कट्टरपंथियों के विरूद्ध इस्कॉन श्रद्धालु एकजुट, दुनिया के 700 मंदिरों पर प्रदर्शन

बांग्लादेश में हिंदुओं से ज्यादती: कट्टरपंथियों के विरूद्ध इस्कॉन श्रद्धालु एकजुट, दुनिया के 700 मंदिरों पर प्रदर्शन

बांग्लादेश में हिंदुओं पर हमले और इस्कॉन मंदिर में की गई तोड़-फोड़ के विरूद्ध संस्था से जुड़े श्रद्धालु शनिवार को सड़क पर उतर आए हैं. इस्कॉन के आह्वान पर पूरे विश्व के इस्कॉन श्रद्धालु हमले के विरूद्ध विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं और आरोपियों पर कठोर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. यह प्रदर्शन दुनिया के 150 राष्ट्रों में स्थित 700 इस्कॉन मंदिरों पर चल रहा है. न्यूज एजेंसी एएनआई की ओर से कोलकाता में चल रहे विरोध प्रदर्शन की फोटोज़ भी जारी की गई हैं.


एक श्रद्धालु की हुई थी मौत 
16 अक्तूबर को बांग्लादेश के नोआखाली में उपद्रवी भीड़ द्वारा इस्कॉन मंदिर पर हमला कर दिया गया था. इस दौरान भीड़ ने मंदिर परिसर में घुसकर तोड़फोड़ की, जिसमें से श्रद्धालु की मृत्यु भी हो गई थी. इसके अतिरिक्त घटना से पहले भी दुर्गा पंडालों को बांग्लादेश में कई स्थान निशाना बनाया गया था. इन हमलों में भी चार हिंदुओं की मृत्यु हो गई थी. 

लगाई गई थी आग 
बांग्लादेश में हिंदुओं पर हो रहे हमलों के क्रम में कई हिंदू परिवारों के घरों में भी आग लगा दी गई थी. इन हमलों में 20 से अधिक घर पूरी तरह जलकर खाक हो गए थे.