गोरखपुर में प्रधानमंत्री: सार्वजनिक मंच से मोदी ने पेट्रोल-डीजल, गैस और कच्चे तेल का जिक्र किया, पढ़िए क्या बोले?

गोरखपुर में प्रधानमंत्री: सार्वजनिक मंच से मोदी ने पेट्रोल-डीजल, गैस और कच्चे तेल का जिक्र किया, पढ़िए क्या बोले?

महंगाई के मुद्दे पर विपक्ष लगातार सरकार पर हावी है। अगले साल यूपी समेत पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भी विपक्ष ने इसे एजेंडे में शामिल किया है। संसद से लेकर सड़क तक ईंधन और खाद्य पदार्थों की बढ़ती कीमतों को लेकर चर्चा हो रही है। इस बीच, पहली बार सार्वजनिक मंच से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पेट्रोल-डीजल, गैस और खाद्य तेलों का जिक्र किया। 

गोरखपुर में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने मंच से 34.34 मिनट तक भाषण दिया। उनके इस संबोधन में केंद्र और राज्य सरकार की कई योजनाओं का जिक्र था। योगी सरकार की तारीफ थी। किसानों, युवाओं, महिलाओं और बच्चों के मुद्दे भी थे। लेकिन, उनका सार्वजनिक मंच से पेट्रोल-डीजल, गैस और खाद्य तेलों का जिक्र करना हर किसी को हैरान कर गया। 

मोदी ने अपने भाषण में खाद्य तेलों का जिक्र किया। बोले, 'आज खाने के तेल को आयात करने के लिए भी भारत हर साल हजारों करोड़ रुपए विदेश भेजता है। इस स्थिति को बदलने का काम शुरू हो चुका है। अब देश में ही पर्याप्त खाद्य तेल के उत्पादन के लिए राष्ट्रीय मिशन शुरू किया गया है।'

पेट्रोल-डीजल पर क्या बोले?
प्रधानमंत्री ने कहा, 'पेट्रोल-डीजल के लिए कच्चे तेल पर भारत हर साल पांच से सात लाख करोड़ रुपए खर्च करता है। इस आयात को हम इथेनॉल और बायो फ्यूल के जरिए कम करने पर जुटे हैं। पूर्वांचल का ये क्षेत्र गन्ना किसानों का गढ़ है। ऐसे में गन्ना किसानों के लिए चीनी के अतिरिक्त कमाई का एक बहुत बेहतर साधन इथेनॉल बन रहा है। उत्तर प्रदेश में ही बायो फ्यूल बनाने के लिए अनेक फैक्ट्रियों पर काम चल रहा है। हमारी सरकार आने से पहले यूपी से सिर्फ 20 करोड़ लीटर इथेनॉल यूपी में तैयार होता था। तेल कंपनियों को भेजा जाता था। आज करीब-करीब 100 करोड़ लीटर अकेले उत्तर प्रदेश के किसान भारत की तेल कंपनियों को भेज रहे हैं।'
 
मोदी ने आगे कहा, 'पहले खाड़ी का तेल आता था, अब झाड़ी का तेल भी आने लगा है। मैं योगी सरकार की सराहना करना चाहता हूं कि उन्होंने उन्होंने बीते साढ़े चार साल में गन्ना किसानों के लिए शानदार काम किया है।' 

गैस पर क्या बोले? 
प्रधानमंत्री ने फर्टिलाइजर प्लांट का जिक्र करते हुए कहा, 'इस प्लांट तक ईंधन पहुंचाने के लिए पीएम ऊर्जा गंगा गैस पाइप परियोलाइन योजना के तहत हलदिया से जगदीशपुर तक गैस पाइप लाइन बिछाई गई है। अब इसका फायदा पूर्वी भारत के दर्जनों जिलों को मिल रहा है। इस पाइप लाइन से कई जिलों के लोगों को सस्ती गैस भी मिलने लगी है।' 


दो बच्चों की मां को कस्टमर से हुआ प्यार, प्रेमी को पाने के लिए पति को उतारा मौत के घाट

दो बच्चों की मां को कस्टमर से हुआ प्यार, प्रेमी को पाने के लिए पति को उतारा मौत के घाट

Rajgarh Cruel Crime: मध्य प्रदेश के राजगढ़ की पुलिस एक केस को सुलझाने के बाद हैरान रह गई. दरअसल, पुलिस को सूचना मिली कि एक आदमी की बेहरमी से हत्या हो गई है. पुलिस को जांच में पता चला कि हत्या के वक्त पास में ही पत्नी सो रही थी, लेकिन उसकी नींद तक नहीं खुली.

पुलिस को महिला पर शक हुआ. उसने घर से एक टूटा मोबाइल बरामद किया और उसकी रिपेयरिंग कराई. इस मोबाइल ने सारे राज खोल दिए. दो बच्चों की मां को अपनी दुकान पर आने वाले कस्टमर से प्यार हो गया था. इसी प्यार को पाने के लिए उसने प्रेमी के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतार दिया.