महिलाओं के विरूद्ध क्राइम में 7% का इजाफा, हर दिन दर्ज हो रहे 87 बलात्कार केस - NCRB

महिलाओं के विरूद्ध क्राइम में 7% का इजाफा, हर दिन दर्ज हो रहे 87 बलात्कार केस - NCRB

नई दिल्ली। हिंदुस्तान में 2019 में रोजाना दुष्कर्म के औसतन 87 मुद्दे दर्ज हुए व वर्ष भर के दौरान स्त्रियों के विरूद्ध क्राइम के कुल 4,05,861 मुद्दे दर्ज हुए जो 2018 की तुलना में सात फीसदी अधिक हैं। सरकार की ओर से जारी ताजा आंकड़ों में यह जानकारी सामने आई।



राष्ट्रीय क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) के आंकड़ों के अनुसार, देश में 2018 में स्त्रियों के विरूद्ध क्राइम के 3,78,236 मुद्दे दर्ज हुए। आंकड़ों के अनुसार 2019 में दुष्कर्म के कुल 32,033 मुद्दे दर्ज हुए जो वर्ष भर के दौरान स्त्रियों के खिलाफ क्राइम के कुल मामलों का 7.3 फीसदी था।

नवीनतम सरकारी आंकड़ों के अनुसार 2019 में हिंदुस्तान में रोजाना मर्डर के औसतन 79 मुद्दे दर्ज किए गए। 2019 में मर्डर के कुल 28,918 मुद्दे दर्ज किए गए जो 2018 (29,017 मामलों) की अपेक्षा 0.3 फीसदी कम है। पश्चिम बंगाल ने नहीं साझा किए आंकड़ें
गृह मंत्रालय ने बताया बोला कि नवीनतम डेटा में पश्चिम बंगाल द्वारा आंकड़े साझा नहीं किए गए जिसकी वजह सेराष्ट्रीय व शहर-वार आंकड़ों के लिए  2018 के डेटा का उपयोग  किया गया है। केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों का धन्यवाद किया जिन्होंने कोरोनोवायरस प्रकोप के दौरान डेटा इकट्ठा करने का कार्य किया।

सुसाइड के आंकड़ें, फिर भी सरकार मौन क्यों ? | Jawab To Dena Hoga" data-youtube-category="News & Politics">

केंद्रीय गृह मंत्रालय के तहत कार्य करने वाला NCRB देश भर के अपराध डेटा को  इकट्ठा कर उसका एनलासिस करती है। एजेंसी ने 36 राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों व 53 महानगरों के आंकड़ों को समेटने के बाद तीन हिस्सों में रिपोर्ट तैयार की है।  (भाषा इनपुट के साथ)