विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने बोला कोविड-19 महामारी से जीत की उम्मीद

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने बोला कोविड-19 महामारी से जीत की उम्मीद

दुनिया भर में कोरोना वायरस (Coronavirus) से मौतों का आंकड़ा 750000 के पार हो गया है। संक्रमण के करीब 2 करोड़ मुद्दे आने के बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने बोला है कि कोविड-19 महामारी से जीत की उम्मीद अब भी बाकी है।

WHO ने भरोसा जताया कि पूरी दुनिया को प्रभावित करने वाली इस महामारी से निपटने के लिए उठाए गए महत्वपूर्ण कदमों में कभी भी देरी नहीं हुई। WHO के प्रमुख टेड्रोस एडहनॉम गिब्रयेसॉस ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस (Press Conference) में कहा, 'इस सप्ताह दुनियाभर में संक्रमण का कुल आंकड़ा दो करोड़ व मरने वालों की कुल संख्या साढ़े सात लाख तक पहुंच जाएगी। '

टेड्रोस ने बताया, 'इन आंकड़ों के पीछे बहुत दर्द व कठिनाई छुपी है। इस महामारी की वजह से गई हर एक जान जरूरी है। ' टेड्रोस ने आगे कहा, 'मुझे पता है आप में से बहुत से लोग दुखी हैं व दुनिया के लिए यह कठिन वक्त है। लेकिन मैं यह साफ करना चाहता हूं कि उम्मीद की किरण बची है। इस महामारी को समाप्त करने में अब भी देर नहीं हुई। '

कोरोना संक्रमण के मुद्दे में अमरीका (America) के बाद ब्राजील (Brazil) सबसे ज्यादा प्रभावित मुल्क है। यहां संक्रमण का आंकड़ा 30 लाख के पार है। रविवार को यहां कोरोना वायरस से मरने वालों की कुल संख्या 1 लाख के पार हो गई।

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) से जब सोमवार को व्हाइट हाउस (White House) में प्रेस ब्रीफिंग (press briefing) के दौरान ब्राज़ील को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, 'राष्ट्रपति बोलसोनारो से मेरे अच्छे संबंध हैं। मैंने सुना है वो बेहतर हो रहे हैं। वो कोरोना संक्रमण से अच्छा हो रहे हैं। '

जैर बोलसोनारो कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। हालांकि जैर इसे छोटी फ्लू बताते हैं। बोलसोनारो व ट्रंप दोनों ने बीते पांच महीनों में कोरोना के खतरे का मज़ाक बनाया। जहां बोलसोनारो ने इसे छोटी फ्लू करार दिया तो वहीं ट्रंप ने लगातार यही बोला कि ये रोग उनके शासनकाल में ही खत्म हो जाएगी।

बीते हफ्ते डोनाल्ड ट्रंप ने बोला कि उन्हें भरोसा है कि,'ये वायरस समाप्त हो जाएगा। जबकि उनके शीर्ष स्वास्थ्य जानकार डाक्टर एंथनी फाउची ने कई बार चेतावनी दी है कि, इस महामारी से निपटने में वर्ष 2021 तक या उससे भी अधिक समय लग सकता है, लेकिन बोलसोनारो व ट्रंप दोनों ने ही जानकार ों की राय को दरकिनार किया है।

आज से पेरिस के कुछ इलाक़ों में मास्क (mask) पहनना जरूरी कर दिया गया है . फ्रांस की राजधानी में लगातार कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों के बढ़ने के बाद आज यह निर्णय लिया गया है। पेरिस में 24 वर्षीय मैरियन ने बोला कि मास्क आवश्यक हैं अगर हम दूसरी बार कोरोना से बचना चाहते हैं। एक लॉक डाउन के बाद फिर से होने कि सम्भावना है। '

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मुद्दे हिंदुस्तान की चिंता बढ़ा रहे हैं। पिछले कुछ हफ़्तों से हिंदुस्तान में हर दिन कोरोना के नए मुद्दे 50 हज़ार से अधिक आ रहे हैं। हिंदुस्तान में अब तक संक्रमण के 22 लाख से अधिक मुद्दे हैं जबकि पड़ोसी देश पाक में हर रोज संक्रमण का आंकड़ा कम हो रहा है।

पाकिस्तान में पिछले पांच महीनों में पहली बार लोग जिम, सैलून व रेस्टोरेंट में दिखे हैं। संक्रमण रोकने के लिए सावधानी न बंद की गई इन जगहों को सोमवार को फिर से खोल दिया गया है।

पाकिस्तान में अब तक कोरोना संक्रमण के कुल मुद्दे दो लाख 80 हज़ार से ज्यादा हैं। वहीं करीब 6100 लोगों की मृत्यु हुई है। लेकिन यहां जून महीने के बाद से संक्रमण के मामलों में कमी आ रही है। जून में यहां एक दिन में संक्रमण के 7000 के क़रीब मुद्दे सामने आए थे व 118 लोगों की मृत्यु हुई थी।

रविवार को, पाक में संक्रमण के कुल 539 नए मुद्दे सामने आए व 15 लोगों की मृत्यु हुई। अगस्त महीने में यहां प्रतिदिन के मुद्दे एक हजार से कम ही रहे हैं। इस तरह से पकिस्तान में कोरोना संक्रमण के मुद्दे में ह्राश हो रहा है।