इंग्लैंड की काउंटी टीम डर्बीशर इस कारण जिम्बाब्वे के सत्र पूर्व दौरे को बीच में छोड़कर लौटेगी स्वदेश, जाने

इंग्लैंड की काउंटी टीम डर्बीशर इस कारण जिम्बाब्वे के सत्र पूर्व दौरे को बीच में छोड़कर लौटेगी स्वदेश, जाने

कोरोना वायरस का प्रभाव खेलों पर भी पड़ा है. इसकी वजह से कई टूर्नामेंट या तो रद्द हो गए हैं या उन्हें स्थागित कर दिया गया है. इंग्लैंड की काउंटी टीम डर्बीशर कोरोना वायरस के खतरे के कारण जिम्बाब्वे के सत्र पूर्व दौरे को बीच में छोड़कर सोमवार को स्वदेश लौटेगी.

 इस खतरनाक महामारी का संसार भर की खेल स्पर्धाओं पर प्रभाव पड़ा है व इस कड़ी में डर्बीशर ने अपना दौरा बीच में ही खत्म करने का निर्णय किया है. वैसे डर्बीशर का कोई खिलाड़ी इस विषाणु से संक्रमित नहीं है.

डर्बीशर की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी बयान के अनुसार, दौरे पर गई टीम के किसी मेम्बर में कोविड-19 से संबंधित कोई लक्षण नहीं दिखा है. हमारे खिलाड़ियों व स्टाफ का स्वास्थ्य व सुरक्षा हालांकि सर्वोच्च है व इसलिए निर्णय किया गया है कि दौरे पर गई टीम को जितना जल्दी संभव हो स्वदेश बुलाया जाए.

डर्बीशर ने बोला कि उन्होंने कोरोना वायरस के संक्रमण से जुड़ी स्थिति पर करीबी नजर रखी हुई है व वे इससे संबंधित सभी सरकारी दिशानिर्देशों का पालन करेंगे. डर्बीशर की टीम इस सप्ताह की आरंभ में जिम्बाब्वे पहुंची थी व शनिवार को बुलावायो में अपने पहले टी-20 मैच में सिलेक्ट एकादश को 48 रन से हराया था.


लंदन मैराथन स्थागित
इस वर्ष होने वाली प्रतिष्ठित लंदन मैराथन भी कोरोना वायरस के कारण स्थागित कर दी गई है. यह पहले 24 अप्रैल को होनी थी जिसे अब चार अक्तूबर तक के लिए स्थागित कर दिया गया है. आयोजकों ने बोला कि हर धावक बाद में होने वाले आयोजन में अपना जगह सुरक्षित पाएगा.

साथ ही बोला कि जो धावक इसमें भाग न लेने का निर्णय करते हैं व किसी कारणवश भाग नहीं ले पाते हैं तो उनकी फीस वापस दे दी जाएगी. धावक अपनी एंट्री को 2021 में होने वाली मैराथन तक के लिए भी स्थागित कर सकते हैं जो अगले वर्ष 25 अप्रैल को होने वाली है.