कर्मचारी अंकित शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में हुआ यह बड़ा खुलासा

कर्मचारी अंकित शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में हुआ यह बड़ा खुलासा

दिल्ली हिंसा ( Delhi Violence ) में मारे गए आईबी कर्मचारी अंकित शर्मा ( Ankit Sharma ) की पोस्टमॉर्ट रिपोर्ट से बड़ा खुलासा हुआ है. रिपोर्ट के मुताबिक, अंकित शर्मा के शरीर पर चोट के कुल 51 निशान थे.

 इनमें 12 बार चाकू से गोदने के निशान मिले हैं. ये निशान थाई, पैर, छाती समेत शरीर के पिछले हिस्से में मिले हैं. कई ऐसे निशान भी थे जो बहुत ज्यादा गहरे मिले हैं.

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आया कि अंकित के शरीर में 6 कट के निशान थे, जिसमें स्क्रैच के निशान भी शामिल हैं. बाकी 33 चोट के निशान मिले हैं. जिसमें रॉड व डंडे जैसे भारी सामना से अंकित के सिर व शरीर पर हमला किया गया था. वहीं, शरीर पर ज्यादातर लाल, पर्पल व नीले निशान मिले हैं.

बता दें कि पोस्टमॉर्ट रिपोर्ट से पहले ऐसी ख़बर सामने आई थी जिसमें अंकित शर्मा के शरीर पर 400 चोट के निशान की बात कही जा रही थी. लोकसभा में दिल्ली हिंसा ( Violence In Delhi ) पर बोलते हुए गृहमंत्री अमित शाह ( Amit Shah ) ने अंकित शर्मा की मृत्यु का जिक्र किया था.

गौरतलब है कि उत्तर पूर्वी दिल्ली के कई इलाके हिंसा से प्रभावित हुए थे. आईबी कांस्टेबल अंकित शर्मा ( IB Officer Ankit Sharam ) अपने परिवार के साथ उत्तर पूर्वी दिल्ली में ही रहते थे. हिंसा के दिन उन पर चाकू से हमला हुआ था. उनकी डेड बॉडी 26 फरवरी को चांदबाग में नाले से मिली थी. जाँच में सामने आया था कि अंकित की मृत्यु चाकू लगने व बुरी तरह पीटे जाने की वजह से हुए थी.

घरवालों ने ताहिर हुसैन पर लगाए आरोप

अंकित के घरवालों ने उनकी मृत्यु का आरोप ताहिर हुसैन ( tahir hussain ) पर लगाया है. परिवारवालों ने आरोप लगाते हुए बोला कि दंगे वाले दिन ताहिर हुसैन के समर्थक अंकित को खींचकर ले गए व फिर उसकी मर्डर कर दी. मर्डर के बाद उसके मृत शरीर को नाले में फेंक दिया.