जाने ऐसे बनाएं रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का काढ़ा

जाने ऐसे बनाएं रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का काढ़ा

कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिए साफ-सफाई के साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के प्रति भी लोग बहुत जागरूक हो रहे हैं. ऐसे में शाकाहार व आयुर्वेदिक तरीकों को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा माना जा रहा है. आज हम आपको ऐसा ही आयुर्वेदिक काढ़ा बनाने का तरीका बताने जा रहे हैं. 

ऐसे बनाएं रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का काढ़ा :
आयुर्वेदिक काढ़ा बनाने के लिए साफ पानी, तुलसी की पत्ती, लौंग, काली मिर्च, छोटी इलायची, अदरक, गुड़ व चायपत्ती की आवश्यकता होती है.
अश्वगंधा, गिलोय एवं कालमेघ का चूर्ण भी काढ़े में इस्तेमाल करें.
इसे बनाने के लिए सबसे पहली पानी गर्म होने के लिए रख दें.
जब पानी उबलने लगे तब उसमें पिसी हुई लौंग, काली मिर्च, इलायची, अदरक व स्वादानुसार गुड़ डाल दें.
थोड़ी देर बाद तुलसी की पत्तियां व चायपत्ती डाल दें. जब चायपत्ती व पानी आधा रह जाए तो गैस बंद कर पानी छान लें.
इसे चाय की तरह गुनगुना ही पिएं.
इससे भी मजबूत होगा इम्यून सिस्टम
इम्यून सिस्टम दुरुस्त रखने के लिए गुनगुना पानी, आंवला, एलोवेरा, गिलोय, नींबू आदि का जूस पीना चाहिए.
इसके अतिरिक्त पानी में तुलसी के रस की कुछ बूंदें डालकर अथवा गर्म दूध में हल्दी मिलाकर पी सकते हैं.