पाक की एक न्यायालय ने हिंदू म​दिंर को लेकर यह निर्णय सुनाते हुए बोली यह बड़ी बात

 पाक की एक न्यायालय ने हिंदू म​दिंर को लेकर यह निर्णय सुनाते हुए बोली यह बड़ी बात

भारत का पड़ोसी मुल्क पाक की एक न्यायालय ने हिंदू म​दिंर को लेकर चौकाने वाला निर्णय लिया है। जिसमें देश की राजधानी में पहले हिंदू मंदिर के निर्माण को चुनौती देने वाली याचिका को खारिज कर दिया गया है। 

न्यायालय ने इस मुद्दे से जुड़ी तीन समान याचिकाओं को खारिज कर दिया है। इस्लामाबाद हाई कोर्ट (IHC) के न्यायाधीश आमेर फारूक की एकल पीठ ने इस मुद्दे की सुनवाई की। मंगलवार देर रात निर्णय सुनाते हुए उन्होंने बोला कि हिंदू पंचायत (IHP) संस्थान पर मंदिर निर्माण करने के लिए कोई रोक नहीं लगाई गई है। बता दें कि इस संस्थान को मंदिर निर्माण के लिए धरती आवंटित की गई है। वह खुद के धन का उपयोग कर मंदिर का निर्माण कर सकती है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इमरान खान सरकार के सत्तारूढ़ सहयोगी पाक मुस्लिम लीग-क्वैड (पीएमएल-क्यू) ने मंदिर के निर्माण का विरोध किया है, अपने गठबंधन सहयोगी से इस परियोजना को समाप्त करने के लिए कहा, क्योंकि यह "इस्लाम की भावना के विरूद्ध है।

इसके अतिरिक्त याचिकाकर्ताओं ने न्यायालय से बोला था कि इस्लामाबाद में इसके लिए मंदिर के निर्माण व धरती के एक टुकड़े का आवंटन राजधानी विकास प्राधिकरण (सीडीए) द्वारा किया जाएगा, जिसमें यह दलील दी गई थी कि राष्ट्रीय राजधानी के मास्टर प्लान में इसके लिए कोई प्रावधान नहीं है। दूसरी ओर पाक में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस (COVID-19) के 2,691 नए मुद्दे सामने आए हैं व 77 लोगों की मृत्यु हो गई। देश में मरीजों की संख्या 2,34,508 हो गई है व 4,839 लोग संक्रमण से जान गंवा चुके हैं। देश के स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी है। संक्रमण से उबरे कुल मरीजों की संख्या 134,957 हो गई है। अन्य 2,306 मरीजों की स्थिति गंभीर बनी हुई है।