बीएचएम चतुर्थ साल का एक विद्यार्थी बना नशे का सौदागर, हुआ इतने ग्राम स्मैक के साथ अरैस्ट

 बीएचएम चतुर्थ साल का एक विद्यार्थी बना नशे का सौदागर, हुआ इतने  ग्राम स्मैक के साथ अरैस्ट

स्मैक का सेवन करते-करते बीएचएम चतुर्थ साल का एक विद्यार्थी नशे का सौदागर बन गया. देहरादून में पुलिस ने आरोपी को 10.5 ग्राम स्मैक के साथ अरैस्ट कर लिया. वह बरेली व रामपुर से स्मैक लाकर यहां बेचता था. आरोपी ने सब्जी मंडी के पास से पुलिस को चकमा देने का कोशिश किया, लेकिन सफल नहीं हो सका. 


सार
बरेली, रामपुर से स्मैक लाकर बेचता था आरोपी
पुलिस ने चेकिंग के दौरान स्मैक के साथ किया गिरफ्तार


पुलिस उपाधीक्षक सदर अनुज कुमार ने बताया कि मार्केट चौकी प्रभारी नवीन जोशी की प्रतिनिधित्व में सब्जी मंडी पर चेकिंग चल रही थी. इसी बीच एक संदिग्ध युवक को रोकने का कोशिश किया. आरोपी घबराकर पीछे की तरफ भाग लिया.

पुलिस ने घेराबंदी कर सार्थक सिंह निवासी पंडितवाड़ी प्रेमनगर को दबोच लिया. तलाशी में उसके पास से 10.5 ग्राम स्मैक बरामद हुई. सीओ ने बताया कि सार्थक एक यूनिवर्सिटी में बीएचएम चतुर्थ साल का विद्यार्थी है.

स्मैक महंगी मिलने के कारण नशा करने में उसे बहुत ज्यादा परेशानी हो रही थी. ऐसे में वह बरेली अथवा रामपुर से खुद स्मैक लाकर बेचने व सेवन करने लगा. पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी का चालान कर दिया. 

पुलिस ने दो स्थानों पर छापा मारकर आठ जुआरियों को दबोचा
प्रेमनगर पुलिस ने टी स्टेट व सब्जी मंडी ग्राउंड में छापा मारकर आठ जुआरियों को अरैस्ट कर लिया. टी-स्टेट में राकेश, चंदन, राम शीष कुमार व अशोक कुमार निवासी प्रेमनगर को ताश के पत्तों व 1970 रुपये के साथ पकड़ा गया. जबकि संतोष, संदीप, मनोहर लाल व अनिल निवासी प्रेमनगर को सब्जी मंडी में जुआ खेलते हुए पकड़ा है. इनके पास से 9150 रुपये नगद व ताश की गड्डी मिली है.