विष्णुगढ़ थाना क्षेत्र के नरकी के बोरो जंगल में एक युवक ने की खुदखुशी, जाने मामला

विष्णुगढ़ थाना क्षेत्र के नरकी के बोरो जंगल में एक युवक ने की खुदखुशी, जाने मामला

विष्णुगढ़ थाना क्षेत्र के नरकी के बोरो जंगल में शनिवार को पेड़ पर फंदे से झूलता मृत शरीर बरामद किया गया. मृत शरीर की पहचान कैलुजारा निवासी श्यामलाल मांझी (45) पिता स्व। बिशुन मांझी के रूप में की गई.

 मृत शरीर के पास पुलिस ने एक कुल्हाड़ी भी बरामद की है. मृत शरीर को कब्जे में लेकर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए हजारीबाग भेज दिया. बताया जाता है कि श्यामलाल बीते दो दिनों से लापता था. परिजनों ने कई संभावित ठिकानों पर तलाश की पर उसका कहीं पता नहीं चला. इससे परिजन बहुत ज्यादा चिंतित थे. इधर, शनिवार की प्रातः काल 9 बजे जंगल गए किसी चरवाहे ने सखुवा के पेड़ में लटका हुआ मृत शरीर देखकर गांव पहुंचकर हो-हल्ला किया. इसके बाद परिजन घटनास्थल पहुंचे व मृत शरीर की पहचान की. मृत शरीर गमछे के सहारे झूल रहा था. लोकल पुलिस को सूचना दी गई. पुलिस बल नरकी मुखिया प्रतिनिधि कुलदीप रविदास के साथ मौके पर पहुंची इसके बाद मृत शरीर को पेड़ से उतारा गया. परिजनों ने बताया कि श्यामलाल दूसरे प्रदेश में बतौर मेहनतकश कार्य करता था. इधर, लॉकडाउन से कुछ दिन पूर्व वह घर लौटा था. गुरुवार को जानवर चराने के लिए जंगल की ओर गया था. देर शाम तक घर नहीं लौटने पर परिवार के लोग चिंतित हो उठे. गुरूवार की रात से लेकर शुक्रवार को दिनभर खोजबीन की गई लेकिन कहीं पता नहीं चला. शनिवार की प्रातः काल उसका मृत शरीर पेड़ से झूलता हुआ मिला. इधर, पुलिस के समक्ष मृतक के पुत्र संतोष मुर्मू ने पिता के खुदकुशी करने की बात स्वीकार की है. बताया कि पिता की मानसिक स्थिति अच्छा नहीं थी. इसके अतिरिक्त किसी से व्यक्तिगत शत्रुता भी नहीं थी. घटना को लेकर गांव में कई तरह की चर्चाएं हैं.