दोनों युवक के ऊपर 52 साल के एक ऑटोरिक्शा ड्राइवर के साथ कथित तौर पर मारपीट का लगा आरोप

दोनों युवक के ऊपर 52 साल के एक ऑटोरिक्शा ड्राइवर के साथ कथित तौर पर मारपीट का लगा आरोप

हाल ही में एक बड़ी खबर आई है. जी दरअसल राजस्थान के सीकर जिले की पुलिस ने दो लोगों को हाल ही में गिरफ्तार कर लिया है. इस मामले में मिली जानकारी के मुताबिक दोनों युवक के ऊपर 52 साल के एक ऑटोरिक्शा ड्राइवर के साथ कथित तौर पर मारपीट का आरोप है.

बताया जा रहा है उन पर "मोदी जिंदाबाद" और "जय श्री राम" का नारा लगाने से इनकार करने के बाद मारपीट करने का आरोप लगाया गया है. एक वेबसाइट के अनुसार ऑटोरिक्शा ड्राइवर गफ्फार अहमद कच्छवा ने इस मामले में शिकायत की है. उसी की शकायत के बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ पहले तो FIR दायर की और उसके बाद दोनों को गिरफ्त में ले लिया है. इस मामले में बताया जा रहा है गफ्फार ने दोनों पर उनकी घड़ी और पैसे चुराने का आरोप भी लगाया है.

इसके अलावा खबर मिली है कि मारपीट में गफ्फार के दांत टूट गए हैं, आंख और गाल पर भी चोटें आई हैं. इस मामले में कच्छवा के भतीजे शाहिद ने कहा, ''शुक्रवार को सुबह लगभग 4 बजे मेरे चाचा पास के एक गांव में यात्रियों को छोड़ने के बाद लौट रहे थे. तबतक एक कार में सवार दो लोगों आए उन्हें रोका और तंबाकू के लिए पूछा. बाद में उन्होंने तम्बाकू लेने से मना कर दिया और उन्हें मोदी जिंदाबाद कहने के लिए कहने लगे.'' इसी के साथ पुलिस में जो एफआईआर दर्ज है उसमे लिखा है 'उन लोगों ने उन्हें थप्पड़ मारा जब उन्होंने नारा लगाने से इनकार कर दिया. उन लोगों ने मुझसे मोदी जिंदाबाद का नारा लगाने को कहा और जब मैंने मना कर दिया तो उनमें से एक ने मुझे थप्पड़ मारा. किसी तरह मैंने अपनी ऑटोरिक्शा से सीकर की तरफ निकला लेकिन उन्होंने अपनी कार पर मेरा पीछा किया और जगमालपुरा के पास मेरी ऑटो रोक दिया.'

इसके अलावा गफ्फार ने अपनी शिकायत में कहा कि 'उन्होंने मुझे ऑटो से उतार कर बुरी तरह से पीटा. उसके बाद उन्होंने कहा कि तुम्हें पाकिस्तान भेजने के बाद ही हम आराम करेंगे.' इस मामले में अब दोनों आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं.