यहां जाने सौरव गांगुली की फिल्मी लव स्टोरी

यहां जाने सौरव गांगुली की फिल्मी लव स्टोरी

जिस तरह सौरव गांगुली बतौर कैप्टन दिलेरी के लिए जाने गए. उसी तरह उनकी जीवन भी रही है. ऐसा इसलिए है, क्योंकि उन्होंने अपने बचपन की दोस्त को अपना हमसफर बनाने का निर्णय किया था, लेकिन घर वाले इसके पक्ष में नहीं थे. 

इतना ही नहीं, सौरव गांगुली की ये लव स्टोरी इतनी फिल्मी है कि केवल उनके व्यक्तिगत ज़िंदगी पर एक मसालेदार फिल्म बन सकती है, क्योंकि सच्चे प्यार के लिए गांगुली ने हर कठिन कदम उठाया था.

दरअसल, सौरव गांगुली आज अपना 48वां जन्मदिन मना रहे हैं. उनके जन्मदिन के खास मौके पर हम आपको उनके प्यार की कहानी के बारे में बताएंगे. जी हां, सौरव गांगुली को अपनी पड़ोसन डोना रॉय बचपन से ही पसंद थीं. सौरव व डोना रॉय कब बचपन के दोस्त से एकदूसरे के प्यार में पड़ गए, खुद दोनों को इस बात का पता नहीं है, लेकिन अक्सर पड़ोसियों के बीच होने वाली लड़ाई के कारण इन दोनों को भी अपने लव जीवन में अड़चनें झेलनी पड़ी थीं.

गांगुली व डोना के परिवारों में बहुत ज्यादा अच्छे संबंध थे. यहां तक दोनों परिवार एक-साथ बिजनेस में भी शामिल थे, लेकिन किसी बात को लेकर दोनों परिवारों में अनबन हो गई. इस बीच सौरव गांगुली व डोना रॉय का प्यार पनप रहा था. परिवार के लाख झगड़ों के बावजूद उन्होंने एक-दूसरे का साथ नहीं छोड़ा व लंबे प्रयत्न के बाद इन्होंने प्यार की जंग जीती, लेकिन सौरव गांगुली व डोना रॉय को एक बार नहीं, बल्कि दो बार विवाह करनी पड़ी. आइए जानें कैसे हुआ था दोनों को प्यार।

'प्रिंस ऑफ कोलकाता' के नाम से फेमस पूर्व कैप्टन सौरव गांगुली पड़ोस में रहने वाली डोना के साथ बचपन में खेलते थे. प्यार के खेल में कूदे गांगुली इश्क की नैया में सवार हो गए व डोना से मिलने के लिए अक्सर छिप-छिपकर उनके स्कूल भी जाया करते थे. सौरव गांगुली सेंट जेवियर स्कूल में पढ़ते थे, जबकि डोना लोरेटो कॉन्वेंट स्कूल की छात्रा थीं. स्कूल जाने के बहाने ही गांगुली व डोना एक-दूसरे से मिलते रहे.

गांगुली व डोना के परिवार भिन्न-भिन्न समुदाय से थे. ऐसे में डोना को डांस पसंद था, लेकिन गांगुली के परिवार वाले डोना रॉय को बतौर डांसर पसंद नहीं करते थे, लेकिन गांगुली अक्सर डोना की डांस परफॉर्मेंस देखने के लिए जाया करते थे. इसके अतिरिक्त डोना भी सौरव गांगुली के मैच देखने जाती थीं. कई वर्षों तक ये चलता रहा, लेकिन परिवार वाले विवाह के लिए राजी नहीं हुए. ऐसे में सौरव गांगुली व डोना रॉय ने एक अहम कदम उठाया.

परिवारवाले नहीं हुए राजी

परिवार वाले सौरव व डोना की विवाह के लिए राजी नहीं थे, लेकिन इन दोनों को ये अहसास हो गया कि वे एक-दूसरे के बिना नहीं रह सकते. इसी दौरान सौरव गांगुली का चयन भारतीय टीम के लिए हो गया था व जून 1996 में वह इंग्लैंड के लिए रवाना हो गए. लंदन के लॉर्ड्स मैदान पर सौरव गांगुली ने टेस्ट डेब्यू किया व उसमें शतक जड़ दिया. इस दौरे पर गांगुली की परफॉर्मेंस धमाकेदार रही. अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की आरंभ में ही उन्होंने फैंस के दिलों पर छाप छोड़ दी थी.

इंग्लैंड से वापस लौटने पर सौरव गांगुली ने अपने समय के बंगाल के महान क्रिकेटर व दोस्त मौली बनर्जी से अपने दिल का हाल बताया व मौली ने भी दोनों की न्यायालय मैरिज कराने का निर्णय किया. अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के बाद गांगुली का नाम व भी फेमस हो गया था. ऐसे में जब वे डोना के साथ विवाह के लिए न्यायालय पहुंचे तो मीडियाकर्मी भी पहुंच गए. ऐसे में दोनों को वहां से वापस जाना पड़ा.

कोर्ट परिसर से आने के बाद मौली ने मैरिज रजिस्ट्रार श्याम सुंदर गुप्ता को अपने घर बुलाया व दोनों की न्यायालय मैरिज करवाई. इस दौरान सौरव गांगुली 23 वर्ष के थे व डोना रॉय 20 वर्ष की थीं. उनकी यह विवाह 12 अगस्त 1996 को हुई, लेकिन इस बारे में परिवार को कुछ पता नहीं चला, क्योंकि दोनों ही परिवार के लोग इसके लिए पहले से राजी नहीं थे, लेकिन कुछ दिन के बाद ये राज खुल गया था.

सौरव गांगुली ने टीम इंडिया के साथ श्रीलंका के दौरे पर जाने से महज 2 दिन पहले बयान दिया कि उन्हें व डोना को मीडियाकर्मी परेशान ना करें. इस बयान के बाद दोनों की विवाह की बात का खुलासा हो गया, जिससे उनके परिवार वाले फिर से नाराज हो गए. हालांकि, अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में थोड़ा बहुत नाम कमाने के बाद सौरव व डोना ने एक बार फिर से अपने-अपने घरवालों को मनाने की प्रयास की व आखिरकार परिवार धूमधाम से दोनों की विवाह कराने के लिए राजी हो गई.

इस दौरान हुई गांगुली व डोना विवाह भव्य ढंग से आयोजित की गई, लेकिन डोना व सौरव की दूसरी विवाह थी. इस बार मीडियावालों ने भी सौरव व डोना की लव स्टोरी को तस्वीरों के साथ छापा व किसी को कोई एतराज नहीं रहा. सौरव गांगुली व डोना रॉय गांगुली की विवाह को 24 वर्ष से ज्यादा का समय हो गया है. दोनों की प्यारी सी बेटी है सना गांगुली