दुनिया स्वास्थ्य संगठन ने अमरीका व इटली को दी यह बड़ी चेतावनी, जाने खबर

 दुनिया स्वास्थ्य संगठन ने अमरीका व इटली को दी यह बड़ी चेतावनी, जाने खबर

दुनिया स्वास्थ्य संगठन ने अमरीका को चेताया है कि अगर वह समय रहते नहीं संभाला तो जल्द कोरोना वायारस का सबसे बड़ा गढ़ होगा. यहां पर इटली से भी अधिक लोगों के मारे जाने की आसार है. 

बीते 24 घंटे में दुनियाभर में आए 85 फीसदी मामलों में 40 फीसदी मुद्दे अमरीका से हैं. इस समय इटली में कोरोना वायरस के कारण सबसे अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी है. यहां पर छह हजार से अधिक लोग मारे जा चुके हैं.

गौरतलब है कि कोरोना वायरस का पहला मुद्दा दिसंबर में चाइना में आया था, जिसने यहां पर 3,281 लोगों के मृत्यु के घाट उतार दिया. अब अमरीका में मरने वालों के आंकड़ों को देखें तो ये वायरस के नए केन्द्र रूप में देखा जा रहा है. यहां पर अब तक 628 लोगों मी मृत्यु हो चुकी है. वहीं करीब पचास हजार लोग इसकी चपेट में हैं.

बीते कुछ हफ्तों से यहां पर लगातार नए मुद्दे सामने आ रहे हैं. बीते सोमवार तक यहां पर 11,000 नए पॉजिटिव मुद्दे सामने आए. वहीं 24 घंटे में यहां पर 100 लोगों की मृत्यु हो गई. यह डेथ रेट कए रिकॉर्ड है. विशेषज्ञों का बोलना कि अमरीका के 17 सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में लॉकडाउन की स्थिति है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार आने वाले समय में अमरीका में बढ़ते मुद्दे इस बात की तस्दीक करेंगे कि अमरीका कोरोना वायरस का नया केन्द्र बन सकता है. अभी तक के मामलों को देखें तो दुनियाभर में करीब चार लाख लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं. वहीं 17 हजार से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी है.

इन मामलों के आने के बाद अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लोगों से सोशल डिस्टेंस बढ़ाने की अपील की है. मगर उन्होंने देश में पूरी तरह से लॉकडाउन न लगाने पर सहमति जताई. उन्होंने इससे इकोनॉमी को गहरा नुकसान होने कि सम्भावना है. लोगों को जागरूक करने के बजाय ट्रंप अन्य मुद्दों पर अधिक बोलते नजर आए.

ट्रंप ने सोमवार को कोरोनोवायरस के प्रसार को रोकने के लिए नीतियों के एक नए सेट की घोषणा की, जिसमें रेस्तरां बंद करना व 10 से अधिक लोगों के साथ सामाजिक समारोहों पर प्रतिबंध लगाना शामिल था. लेकिन उन्होंने इशारा दिया कि महामारी के कारण बंद हो रहे सभी व्यवसायों से आने वाले आर्थिक असर होगा. उन्होंने बोला कि अमेरिका, फिर से व जल्द ही, व्यापार के लिए खुला होगा.