ऑनलाइन मनाया जाएगा स्वतंत्रता दिवस, स्कूलों ने की खास तैयारी

ऑनलाइन मनाया जाएगा स्वतंत्रता दिवस, स्कूलों ने की खास तैयारी

इस साल स्वतंत्रता दिवस की रौनक थोड़ी फीकी की नजर आने वाली है। इन दिनों कोरोना के कारण स्कूलें बंद चल रही है। यह दिवस पूरे भारत में बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है। स्कूलों में भी कई तरह के कार्यक्रम होते हैं।ऐसे में कई स्कूल ऑनलाइन माध्यम से स्वतंत्रता दिवस मनाएंगे। इसके लिए स्कूलों ने खास तैयारी भी कर रखी है। जिस समय पर स्कूल में झंडा फहराया जाएगा, उस वक्त लाइव स्ट्रीमिंग के जरिए बच्चे अपने घर से इसे देख सकेंगे।

लाइव रहेंगे छात्र:

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कई स्कूलोंं की प्रिंसिपल ने कहा कि स्कूल में अलग- अलग कक्षा के छात्रों द्वारा कई तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। जिसमें बच्चों के साथ ही माता-पिता भी भाग लेंगे। वहीं कुछ शिक्षक स्कूल जाकर झंडा फहराएंगे और इसकी लाइव स्ट्रीमिंग भी करेंगे। 

लेकिन सजेंगे स्कूल:

वहीं गाजियाबाद में डीपीएस स्कूल की प्रिंसिपल पल्लवी उपाध्याय ने बताया इस वर्ष कोरोना वायरस की वजह से ऑनलाइन असेंबली कराई जाएगी। पंरतु स्कूल को पूरी तरह से सजाया जाएगा। वहीं स्कूल प्रशासन के कुछ लोग जाकर झंडा फहराएंगे। वहीं पेंटिग प्रतियोगिता, काव्य पाठ जैसे कई कार्यक्रम आयोजित किए जायेंगे।


यहां है ये अनोखी प्रथा, मर्दो से मार खाकर महिलाओं का हो जाता हैं बुरा हाल

यहां है ये अनोखी प्रथा, मर्दो से मार खाकर महिलाओं का हो जाता हैं बुरा हाल

इस दुनिया में आज भी बहुत सी अजीबोगरीब परंपरा चलती आ रही है। आज हम आपको एक ऐसी ही परंपरा के बारे में बताने जा रहे हैं जो आदिवासियों और पिछड़ी जातियों में आज भी निभाई जाती हैं। ये हैं इथोपिया की ऐसी जनजाति जहन महिलाएं अपने पति से पिटने में गर्व महसूस करती हैं। और इन्ही की कुछ तस्वीरें कैमरे में कैद की एक फ्रेंच फोटोग्राफर ‘एरिक लैफोर्ग’ ने।

मार खाती है महिलाएं:

ये जनजाति है हैमर नाम की जाति। इनकी मानें तो ये कहते हैं कि ये जाति बहुत ही अलग है। इनके बारे में बता दे कि इस जाति के लोग कैटल जंपिंग सेरेमनी मनाते हैं ये उनका एक खास तरह का समारोह होता है। इस में 15 गायों को एक साथ खड़ा कर दिया जाता है और एक युवक उसे कूदते हुए पार करना होता है अगर कोई लड़का ऐसा नही कर पाया तो उसकी शादी नहीं की जाती है।

महिलाएं मिलकर उसे पीटती भी हैं। इसके बाद उस लड़के के घर की सभी औरतों को पीटा जाता है। महिलाओं को मारने के लिए पुरुषों का एक संगठन होता है जिसे ‘माजा’ कहते हैं। और इसे महिलाएं बहुत ही मज़े के साथ करती हैं।