मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बोला कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण के लिए प्रोएक्टिव होकर काम करना आवश्यक

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बोला कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण के लिए प्रोएक्टिव होकर काम करना आवश्यक

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 के विरूद्ध जंग को व तेज करने के आदेश दिए हैं. उन्होंने बोला कि कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण के लिए प्रोएक्टिव होकर काम करना आवश्यक है. 

कन्टेनमेंट जोन में पूरी सावधानी बरतते हुए व्यवस्था बनाये रखने के आदेश देते हुए बोला कि कन्टेनमेंट जोन में प्रत्येक आदमी का मेडिकल टेस्ट कराया जाए.

कानपुर भेजे जाएंगे पीजीआई के विशेषज्ञ

मुख्यमंत्री गुरुवार को उच्चस्तरीय मीटिंग में अनलाक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे. उन्होंने  कानपुर नगर, झांसी, वाराणसी, गोरखपुर तथा प्रयागराज में कोविड-19 के इलाज और संक्रमण नियंत्रण की व्यवस्था को व बेहतर करने के आदेश दिए हैं. उन्होंने बोला कि कानपुर नगर में एसजीपीजीआई अथवा केजीएमयू के विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम भेजी जाए, जो वहां कैंप कर चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ करने में आवश्यक योगदान एवं मार्गदर्शन प्रदान करे. 

मुख्यमंत्री ने लखनऊ में खाली बेड की  मांगी रिपोर्ट

उन्होंने अपर मुख्य सचिव, स्वास्थ्य व अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एजुकेशन को बोला कि वह लखनऊ के एल-2 व एल-3 कोविड चिकित्सालयों का भ्रमण कर  खाली बेड की रिपोर्ट उपलब्ध कराने के आदेश दिए. सीएम  ने कानपुर नगर सहित सारे प्रदेश में सर्विलान्स व्यवस्था को व प्रभावी बनाए जाने के आदेश दिए. उन्होंने बोला कि कान्टेक्ट ट्रेसिंग तथा डोर-टू-डोर सर्वे गतिविधियां बेहतर की जाएं.

होम आइसोलेशन के लोगों से लगातार लें जानकारियां

मुख्यमंत्री ने आदेश दिए कि जिला स्तर पर इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेण्टर द्वारा दूरभाष के माध्यम से होम आइसोलेशन में गए प्रत्येक आदमी से संवाद बनाते हुए उनके स्वास्थ्य की स्थिति की जानकारी की जाए. इस काम में सीएम हेल्पलाइन का भी उपयोग किया जाए. सीएम ने बोला कि हर जिले में एल-2 व एल-3 कोविड चिकित्सालयों में पर्याप्त संख्या में बेड की उपलब्धता सुनिश्चित करें. 

आरटीपीसीआर की टेस्टिंग बढ़ाएं

इसके साथ ही, आवश्यकता के मुताबिक चिकित्सा कर्मियों व मेडिकल उपकरणों की समुचित व्यवस्था भी की जाए. एल-2 व एल-3 कोविड अस्पताल में मानक के अनुरूप वेन्टिलेटर्स की व्यवस्था रहनी चाहिए. उन्होंने टेस्टिंग क्षमता में निरन्तर वृद्धि करने के आदेश देते हुए बोला कि आरटीपीसीआर के जरिये रोज की जा रही टेस्टिंग को बढ़ाया जाए.

डीजी हेल्थ से मांगी एल-दो और एल-3 बेड की रिपोर्ट

मुख्यमंत्री  ने महानिदेशक स्वास्थ्य तथा महानिदेशक चिकित्सा एजुकेशन को प्रदेश के एल-2 व एल-3 कोविड चिकित्सालयों में बेड की संख्या में हुई वृद्धि का विवरण देने के आदेश दिए. उन्होंने यह भी आदेश दिए कि जिला स्तर पर इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेण्टर के लिए तैनात नोडल ऑफिसर की जानकारी संबंधित डीएम से प्राप्त की जाए. उन्होंने एम्बुलेंस सेवा के प्रभावी संचालन के लिए नामित प्रभारी ऑफिसर का विवरण सीएमओ से लेने के भी आदेश दिए. उन्होंने बोला कि जिला सेवायोजन ऑफिस को सक्रिय किया जाए.