न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड एनजेडसी ने भारतीय प्रीमियर लीग की मेजबानी पर बोली यह बड़ी बात

न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड एनजेडसी ने भारतीय प्रीमियर लीग की मेजबानी पर बोली यह बड़ी बात

न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड (एनजेडसी) ने बोला कि उसने इस वर्ष भारतीय प्रीमियर लीग (आईपीएल) की मेजबानी करने की पेशकश नहीं की है. बोर्ड ने इस तरह की मीडिया रिपोर्ट को अटकलबाजी करार दिया है.

एनजेडसी के प्रवक्ता रिचर्ड बुक ने रेडियो न्यूजीलैंड से बोला कि क्रिकेट बोर्ड की ओर से आईपीएल की मेजबानी को लेकर कोई प्रस्ताव नहीं भेजा गया है व न ही इसके आयोजन को लेकर कोई योजना है.

बीसीसीआई अक्टूबर-नवंबर में आईपीएल कराना चाहता है

हाल ही में बीसीसीआई के एक ऑफिसर ने बोला था कि कोरोना के कारण मार्च में अनिश्चितकाल के लिए टाले गए आईपीएल को करवाने के लिए यूएई व श्रीलंका के साथ ही न्यूजीलैंड ने भी मेजबानी के लिए प्रस्ताव भेजा है. इसके बाद ही बुक का यह बयान सामने आया है. भारतीय क्रिकेट बोर्ड ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप रद्द होने की सूरत में अक्टूबर-नवंबर की विंडो में आईपीएल कराना चाह रहा है.
हम चाहते हैं कि इस वर्ष आईपीएल जरूर हो: गांगुली
बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने एक दिन पहले ही एक न्यूज चैनल से बोला था कि हम नहीं चाहते कि आईपीएल 2020 रद्द हो. हमें 35 से 40 दिन का भी समय मिलता है, तो हम आईपीएल को देश में ही कराएंगे. फिलहाल, हम यह नहीं जानते कि यह कहां होगा. आईपीएल देश का सबसे बड़ा टूर्नामेंट है. हम चाहते हैं कि यह जरूर हो.’’

बीसीसीआई को टी-20 वर्ल्ड कप पर आईसीसी के निर्णय का इंतजार
टी-20 वर्ल्ड कप की स्थान आईपीएल होगा या नहीं, इस पर गांगुली ने कहा, ‘‘अभी आईसीसी ने टूर्नामेंट को लेकर कुछ भी निर्णय नहीं लिया है. मीडिया में कई तरह की रिपोर्ट्स आ रही हैं, लेकिन जब तक आईसीसी का कोई आधिकारिक निर्णय नहीं आता, तब तक हम इस मुद्दे में कुछ नहीं कह सकते.’’

दो बार आईपीएल हिंदुस्तान के बाहर हो चुका
आईपीएल को अब तक दो बार लोकसभा चुनाव के कारण हिंदुस्तान से बाहर कराया जा चुका है. 2009 में टूर्नामेंट की मेजबानी दक्षिण अफ्रीका ने की थी. तब आईपीएल 5 सप्ताह व 2 दिन तक चला था. इसके बाद 2014 में टूर्नामेंट के मैच हिंदुस्तान के अतिरिक्त यूएई में खेले गए थे.