Babar Azam और Alyssa Healy ने मारी बाजी, जीता ये बड़ा खिताब

Babar Azam और Alyssa Healy ने मारी बाजी, जीता ये बड़ा खिताब

पाक के कैप्टन बाबर आजम (Babar Azam) और ऑस्ट्रेलियाई महिला टीम की विकेटकीपर एलिसा हीली (Alyssa Healy) को सोमवार को अप्रैल महीने में उनके बहुत बढ़िया प्रदर्शन के लिए आईसीसी ने महीने का सर्वश्रेष्ठ इंटरनेशनल खिलाड़ी (ICC player of the month) चुना है

बाबर (Babar Azam) ने दक्षिण अफ्रीका के विरूद्ध हाल ही में खत्म हुई श्रृंखला में सभी प्रारूपों में लगातार अच्छा प्रदर्शन किया था प्रशंसकों और आईसीसी वोटिंग अकादमी के द्वारा उन्हें अप्रैल महीने के विजेता के रूप में चुना गया दक्षिण अफ्रीका के विरूद्ध तीसरे एकदिवसीय मैच में उन्होंने 82 गेंदों में 94 रन की मैच विजेता पारी खेल कर 13 रेटिंग अंक हासिल किए थे जिससे वह करियर के सर्वश्रेष्ठ 865 अंक तक पहुंचने में पास रहे उन्होंने इसी टीम के विरूद्ध टी20 श्रृंखला के तीसरे मैच में भी 59 गेंद 122 रन की पारी खेली थी जिससे पाक ने बड़े लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा किया था

यहां जारी प्रेस रिलीज में आईसीसी वोटिंग अकादमी के मेम्बर रमीज राजा ने कहा, ‘सीमित ओवरों के क्रिकेट में बल्लेबाज दो तरह से खेलते है पहला उपाय ताकत का और दमखम के साथ गेंदबाजी की धज्जियां उड़ाना और दूसरा उपाय है बाबर आजम की तरह बल्लेबाजी, जिसमें सहजता से बहुत बढ़िया कलात्मक शॉट लगाए जाते हैं वह इस पुरस्कार के हकदार थे 

हीली (Alyssa Healy) ने इस दौरान न्यूजीलैंड के विरूद्ध सीमित ओवरों की श्रृंखला में बहुत बढ़िया प्रदर्शन किया उन्होंने तीन वनडे मैचों में 51.66 की औसत और 98.72 की हड़ताल रेट से 155 रन बनाए उनके इस प्रदर्शन से ऑस्ट्रेलिया लगातार सबसे अधिक एकदिवसीय मैचों को जीतने के अपने रिकार्ड को 24 मैचों तक पहुंचाने में पास रहा

आईसीसी वोटिंग अकादमी के मेम्बर इयान बिशप ने कहा, ‘हीली अप्रैल महीने के लिए आईसीसी की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुने जाने की हकदार हैं उसकी बहुत बढ़िया बल्लेबाजी से ऑस्ट्रेलिया तीनों मैचों में बड़ा स्कोर खड़ा करने और लक्ष्य का पीछा करने में पास रहा 


पूर्व भारतीय लेग स्पिनर लक्ष्मण शिवरामकृष्णन का खुलासा!

पूर्व भारतीय लेग स्पिनर लक्ष्मण शिवरामकृष्णन का खुलासा!

नई दिल्ली: इंग्लैंड के 27 वर्षीय गेंदबाज ओली रॉबिन्सन (ollie robinson) ने 2 जून को न्यूजीलैंड के विरूद्ध टेस्ट में अपना अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू किया. लेकिन उनका एक पूराना विवादित ट्वीट उनके कॅरियर पर भारी पड़ा. मुद्दे के तूल पकड़ने के बाद इंग्‍लैंड एंड वेल्‍स क्रिकेट बोर्ड ने बड़ा निर्णय लेते हुए रॉबिन्सन को अंतर्राष्ट्रीय मैचों से निलंबित कर दिया. अब रंगभेद के मुद्दे पर भारतीय क्रिकेटर लक्ष्मण शिवरामकृष्णन ((Laxman Sivaramakrishnan)) ने चौंकाने वाला खुलासा किया है. जिसमें उन्होंने बताया कि कैसे उन्हें भी अपने कॅरियर में रंगभेद का सामना करना पड़ा था.

होटल में घुसने से रोक दिया था
टीम इंडिया के पूर्व लेग स्पिनर लक्ष्मण शिवरामकृष्णन (Laxman Sivaramakrishnan) ने एक मीडिया हाउस को बताया कि उन्हें अपने ही देश में मुंबई के एक होटल में घुसने से रोक दिया था. उन्हें अपने क्रिकेट कॅरियर में रंगभेद का सामना करना पड़ा था. ओली रॉबिन्सन को लेकर पूछे गए प्रश्न पर शिवरामकृष्णन ने कहा, 'मैं 16 वर्ष का था तब मेरा भातरीय टीम चयन हुआ था. मेरे पहले दौरे से पहले मुंबई के एक फाइव स्टार होटल में प्रवेश से मुझे रोक दिया गया था. होटल के एंप्लाई को लगा कि मैं 16 वर्ष का लड़का टीम इंडिया के लिए कैसे खेल सकता हूं और उसे इसलिए भी नहीं लगा होगा क्योंकि मेरा रंग काला था. उन्होंने बोला कि मुझे मेरे क्रिकेट कॅरियर में हर देश में रंगभेद का सामना करना पड़ा. मेरा अपमान किया गया.'

बुरे दौर में खेल पर पड़ता है इन चीजों का असर
शिवरामकृष्णन ने बोला कि जब तक आप अच्छा खेल रहे होते हैं तो इन चीजों का असर नहीं पड़ता है. लेकिन जब आउट ऑफ फॉर्म चल रहे होते हैं ये सब चीजें बहुत मैटर करती हैं. जब मैंने अपना अंतिम टेस्‍ट मैच खेला तब मेरी आयु 21 वर्ष की थी. ये कई चीजों का मिश्रण था. साधारण फॉर्म, आत्‍मविश्‍वास की कमी और दर्शकों द्वारा आपके साथ किया गया बेकार बर्ताव.

क्रिकेट बोर्ड्स को खिलाड़ियों से करनी चाहिए बात
भारत के पूर्व स्पिनर ने बोला कि क्रिकेट बोर्ड को रंगभेद के मामले पर अपने खिलाड़ियों से बात करनी चाहिए. उन्हें अवगत कराना चाहिए कि आपको कौनसे—कौनसे राष्ट्रों में खेलते समय रंगभेद का सामना करना पड़ सकता और इससे कैसे निटपना है. खासकर एशियाई राष्ट्रों के क्रिकेट बोर्ड्स को. पिछले वर्ष ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जब गेंदबाज मोहम्मद सिराज के साथ ऐसी घटना हुई तो पूरी टीम इंडिया एकजुट नजर आई. यह देखकर मुझे बहुत ज्यादा अच्छा लगा.


नासा के रोवर परसिवरेंस ने मार्स पर देखी धरती पर मौजूद वॉल्‍केनिक रॉक जैसी चट्टान       दस वर्ष बाद पहली बार आज मिलेंगे बाइडन और पुतिन, तनातनी के बीच जानें       अब तक चोरी की घटना का कोई सुराग नहीं,पीड़ित परिवार से मिलकर जिला प्रधान ने जाना हाल-चाल, शहर की विधि व्यवस्था पर एसपी से करूंगी बात: शालिनी       भारतीय मूल की सरला विद्या बनीं अमेरिका में संघीय जज, बाइडन ने किया मनोनीत       सरला से बढ़ा भारत का मान, बाइडन ने किया कनेक्टिकट राज्‍य का संघीय जज मनोनीत, जानें       बाइडन ने पुतिन को कहा था 'हत्‍यारा', जानें- जिनेवा में उनसे मुलाकात के पूर्व कैसे पड़े नरम, कही ये बात       अंतरिक्ष में Manned Mission को तैयार चीन, कल रवाना होंगे तीन एस्‍ट्रॉनॉट्स       रेडिएशन लीकेज से चीन का इनकार, कहा...       पाक सेना प्रमुख बाजवा ने अफगानिस्तान के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा पर ...       पाक की संसद में जमकर हुआ हंगामा, सत्तापक्ष और विपक्ष के सदस्यों ने एक दूसरे पर फेंके बजट के दस्तावेज       सिंध में पैसे देकर कोई कुछ भी कर सकता है, प्रांत में नहीं है सरकार जैसी कोई चीज- चीफ जस्टिस ऑफ पाकिस्‍तान       कुलभूषण जाधव मामले में इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने सुनवाई 5 अक्टूबर तक टाली       पाकिस्तान : 13 साल की लड़की का जबरन धर्म परिवर्तन कर कराया गया निकाह       फेक न्यूज प्रसारित करने वालों पर सीएम योगी सख्त, बोले- संप्रदायिक उन्माद फैलाने की कोशिश नहीं स्वीकार       इंजीनियरिंग और पॉलिटेक्निक कॉलेजों में इस वर्ष नहीं बढ़ेगी फीस, योगी सरकार का बड़ा फैसला       सतीश पूनिया ने कहा कि राजस्थान में सीएम वर्चुअल, जनता के हितों से कोई सरोकार नहीं       नीतीश कुमार ने कहा कि बारिश और बाढ़ के मद्देनजर पूरी तरह से अलर्ट रहे आपदा प्रबंधन विभाग       तीसरी लहर से लड़ने को नोएडा जिम्स अब डॉक्टर-पैरामेडिकल स्टाफ को कर रहा तैयार       UP School Reopening: क्या एक जुलाई से खुलेंगे स्कूल ?       चिराग-नीतीश की अदावत के बीच पिस रही भाजपा