मुंह के कीटाणु को ख़त्म करने के लिए करे नारियल ऑयल का प्रयोग

क्या आप नारियल ऑयल प्रयोग करते हैं। नहीं करते हैं तो इस समाचार के बाद आप इसका प्रयोग करेंगे। इसके ढेर सारे फायदे होते हैं जिनके बारे में आप यहां जान सकते हैं। पहले के लोग नारियल का ऑयल ही प्रयोग करते थे लेकिन आज के समय में इसे पुराना समझा जाता है, लेकिन वहीं इसमें कई फायदा होते हैं। तो आइये जानते हैं नारियल ऑयल के फायदे।

* नारियल ऑयल लॉरिक एसिड व कैप्रिक एसिड की तरह एंटीमाइक्रोबियल लिपिड का एक समृद्ध स्रोत होता है, जो एंटीफंगल व जीवाणुरोधी होते हैं।

* आयुर्वेद में पित्त वृद्धि के कारण नारियल ऑयल का प्रयोग गठिया, जोड़ों के दर्द को कम करने के लिए किया जाता है। यह हड्डियों में कैल्शियम व मैग्नीशियम अवशोषित करने की क्षमता में सुधार करता है।

* नारियल ऑयल स्कीन के लिए नैचुरल मॉइश्चराइजर का कार्य करता है, यह मृत स्कीन को हटाकर रंग निखारता है। इसका प्रयोग स्कीन रोग, डर्मेटाइटिस, एक्जिमा व स्किन बर्न में किया जा सकता है। नारियल ऑयल स्ट्रेच मार्क्‍स हटाने में भी मदद करता है व होंठ को फटने से बचाने के लिए भी इसे नियमित रूप से होंठ पर लगाया जा सकता है।

* नारियल ऑयल बालों को घना, लंबा व चमकदार बनाने में बहुत ज्यादा मददगार साबति होता है। सिर का मसाज सिर्फ पांच मिनट नारियल ऑयल से करने से न सिर्फ रक्त संचार में वृद्धि होती है, बल्कि खो चुके पोषक तत्वों की भी भरपाई करता है, नियमित रूप से नारियल ऑयल से मसाज करने से बालों में रूसी नहीं होता है।

* नारियल ऑयल को मुंह में करीब 20 मिनट तक रखने के बाद थूक देने से मुंह के कीटाणु व मसूड़ों की समस्याएं दूर होती है। स्वस्थ मसूड़ों के लिए हफ्ते में कम से कम तीन बार ऐसा करें।