गांववालो की वजह से महिला ने कर ली आत्महत्या

 गांववालो की वजह से महिला ने कर ली आत्महत्या

 छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्वाचन क्षेत्र पाटन के रानीतराई थाना क्षेत्र में एक महिला ने प्रताड़ना से तंग आकर आत्महत्या कर ली। महिला को कुछ लोग टोनही (डायन) कहकर पुकारते थे,

जिससे तंग आकर उसने ये कदम उठाया। कीर्तन बाई साहू नाम की इस महिला ने 17 मार्च को अपने घर के पीछे लगे आम के पेड़ से फांसी लगाकर ख़ुदकुशी कर ली। जिसके बाद रानीतराई थाना पुलिस ने केस दर्ज कर जाँच प्रारम्भ कर महिला को प्रताड़ित करने वाले चार आरोपियों को अरैस्ट कर लिया है।

छतीसगढ़ में सामाजिक बुराई के रूप में टोनही (डायन) कहने या तंत्र मंत्र विद्या के नाम पर अत्याचार करने वालों के लिए टोनही प्रताड़ना अधिनियम नाम का एक कानून बनाया गया है। इसके भी इसके ममले सामने आ रहे हैं। बता दें कि 17 मार्च के दिन चारों आरोपियों ने मृतका कीर्तन साहू के घर में पर हंगामा किया। बताया जा रहा है कि ये पहली दफा नहीं था जब इन लोगों ने उसपर टोनही (डायन) होने का आरोप लगाया। ऐसे टकराव पहले भी होते थे किन्तु लगातार टोनही कहकर गांव में बदनाम करने से त्रस्त होकर कीर्तन बाई ने मृत्यु को गले लगा लिया।

कीर्तन बाई के हाथ में एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है जिसमें चारों आरोपियों के नाम थे। वहीं परिजनों के शिकायत पर पुलिस ने मुद्दे की जाँच की व रिवागहन के ही चार आरोपियों को अरैस्ट कर लिया।