वाइफ स्वैपिंग रैकेट मामले में 7 आरोपी गिरफ्तार, एक महिला से इतनी बार बनाते थे सम्बन्ध

वाइफ स्वैपिंग रैकेट मामले में 7 आरोपी गिरफ्तार, एक महिला से इतनी बार बनाते थे सम्बन्ध

केरल के कोट्टायम में एक वाइफ स्वैपिंग रैकेट का पर्दाफाश हुआ है. रैकेट चलाने वाले 7 लोगों को रविवार को पुलिस हिरासत में लिया गया. एक सदस्य की पत्नी की तरफ से पुलिस में शिकायत दर्ज कराने के बाद मामले का खुलासा हुआ. पुलिस ने कहा कि 7 लोग गिरफ्तार किए गए हैं और 25 लोगों पर नजर रखी जा रही है. अगले कुछ दिनों में और लोगों की गिरफ्तारी होगी.महिला ने करुकचल पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है कि उसके पति ने ने उसे दूसरे पुरुषों के साथ संबंध बनाने के लिए मजबूर किया. महिला ने बताया कि उसके साथ अननैचुरल सेक्स किया गया.

आरोपी पति को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस को बड़े नेटवर्क के सुराग मिले. पुलिस ने बताया है कि रैकेट से करीब 1000 कपल्स जुड़े थे.सोशल मीडिया के जरिए ऑपरेट करता था गिरोहगिरफ्तार किए गए लोग कोट्टायम, पथनमथिट्टा और अलापुझा जिले के हैं. कराकुचल पुलिस ने बताया कि यह रैकेट फेसबुक और टेलीग्राम जैसे कई सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से ऑपरेट करता था. अधिकारियों ने बताया कि रैकेट के सदस्यों में कई हाई-प्रोफाइल लोग भी शामिल हैं. रैकेट में शामिल कपल्स जब भी मिलते थे, अपनी पत्नियों को एक्सचेंज करते थे.

कई बार एक महिला को एक ही समय पर तीन पुरुष शेयर करते थे. कई सिंगल लड़के दूसरे पुरुषों के पार्टनर शेयर करने के लिए पैसे भी देते थे.कपल स्वैपिंग ग्रुप्स में एक्सचेंज की जाती थीं पत्नियांएक अधिकारी ने बताया कि सोशल मीडिया के जरिए एक-जैसे लोगों को चुना जाता था और प्राइवेट कपल स्वैपिंग ग्रुप्स में पत्नियां एक्सचेंज की जाती थीं. इस रैकेट से कई लोग फेसबुक से जुड़े थे. रैकेट फेक सोशल मीडिया अकाउंट का इस्तेमाल करता था, इसलिए इससे जुड़े सभी लोगों को पकड़ पाने में समय लगेगा. पुलिस ने कहा कि इस मामले की गहरी जांच की जा रही है. मामले से जुड़े लोगों की सारी जानकारी निकाली जा रही है और यह पता लगाया जा रहा है कि क्या इस ग्रुप के लोग किसी और ग्रुप के साथ भी रिलेशनशिप में हैं.


सिगरेट के चक्कर में लड़की ने कर ली आत्महत्या

सिगरेट के चक्कर में लड़की ने कर ली आत्महत्या

इंदौर: मध्य प्रदेश के इंदौर में 11वीं क्लास की एक स्टूडेंट को सिगरेट पीने की वजह से सुसाइड करनी पड़ी. यह मामला सुनकर हर किसी के होश उड़ गए. जी दरअसल कुछ स्कूली दोस्तों ने लड़की की सिगरेट पीते हुए फोटो अपने मोबाइल में क्लिक कर ली थी और उसके बाद वह इसे वायरल करने की धमकी देने लगे थे. इसी बात से आहत छात्रा ने अपने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. अब पुलिस इस मुद्दे की जांच में जुट गई है. इस मुद्दे में मिली जानकारी के अनुसार सिलिकॉन सिटी क्षेत्र में रहने वाली एक लड़की शहर के नामी प्राइवेट विद्यालय में 11वीं क्लास की स्टूडेंट थी.

जी हाँ और उसके पिता बच्चों के चिकित्सक हैं और मां पड़ोसी जिले बड़वानी में नर्स हैं. बीते सोमवार शाम को छात्रा के माता-पिता किसी काम से घर से बाहर गए हुए थे और छोटी बहन (10 साल) और भाई (4 साल) बिल्डिंग के नीचे खेल रहे थे. इसी बीच छात्रा कमरे में फांसी के फंदे पर झूल गई. वहीं शाम को जब माता-पिता वापस आए तो उन्होंने बेटी फंदे पर लटकते देखा और बचाने की प्रयास की लेकिन तब तक लड़की मर चुकी थी. मरने से पहले बीते शनिवार को छात्रा ने अपने पिता को बताया था कि उसने एक दिन कोचिंग से छूटते समय अपने दोस्तों के साथ सिगरेट पी ली थी और उसी दौरान कोचिंग में ही पढ़ने वाले 2 विद्यार्थी और एक छात्रा ने अपने मोबाइल से उसका फोटो क्लिक कर लिया था.

उसके बाद तीनों क्लासमेट उसे यह कहकर ब्लैकमेल करने लगे कि स्मोकिंग करने की फोटो तुम्हारे पापा-मम्मी को भेजेंगे. हालांकि, इस बात पर पिता ने बेटी को उसे माफ कर दिया था. हालाँकि फिर भी छात्रा को डर था कि दोस्त उसके फोटो को सोशल मीडिया पर वायरल कर देंगे और इसी को लेकर वह तनाव में चल रही थी. इस मुद्दे में थाना राजेन्द्र नगर के जांच अधिकारी श्याम जोशी ने बताया कि इस मुद्दे में पुलिस ने परिजनों के बयान ले लिए और आगे की कार्रवाई की जा रही है.