प्रमोशन के लिए लगाया था बेहद शॉलिड जुगाड़ देविंदर सिंह का हुआ ये बड़ा खुलासा

 प्रमोशन के लिए लगाया था बेहद शॉलिड जुगाड़ देविंदर सिंह का हुआ ये बड़ा खुलासा

जम्मू और कश्मीर ( Jammu Kashmir )में आतंकवादियों के साथ पकड़ा गया डीएसपी देविंदर सिंह ( DSP Davinder Singh ) के बारे में रोज एक के बाद एक कई बड़े खुलासे हो रहे हैं. वहीं, अब जो देविंदर सिंह को लेकर खुलासा हुआ है उससे सनसनी मच गई है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, देविंदर सिंह बेहद ही शातिर था व अपने प्रमोशन के लिए बेहद शॉलिड जुगाड़ लगाया था. लेकिन, उससे पहले ही उसकी पोल खुल गई व सनसनीखेज सच्चाई सामने आ गई.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, अपने प्रमोशन के लिए देविंदर सिंह जम्मू और कश्मीर केंद्रशासित प्रदेश के पहले लेफ्टिनेंट गवर्नर गिरीश चंद्र मुर्मू ( Girish Chandra Murmu ) से भी बात की थी. LG से मिलकर उसने बोला था कि जान की बाजी लगाकर उसने देश की सेवा की है व वो सच्चा देशभक्त है. लिहाजा, उसे प्रमोशन मिलनी चाहिए. एक मीडिया हाउस के अनुसार, एंटी हाईजैकिंग स्कॉड के मेम्बर होने के चलते दविंदर सिंह श्रीनगर के एयरपोर्ट पर तैनात था. यही पर मौका पाकर उसने एक दिन गिरीश चंद्र मुर्मू से मुलाकात की. बताया जा रहा है कि देविंदर सिंह ने मुर्मू को बताया कि वह वैसे डीएसपी है व उसे अब प्रमोशन मिलनी चाहिए.

रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि देविंदर सिंह की फाइल आकस्मित तेजी से आगे बढ़ने लगी व जल्द ही वह प्रमोट होकर SP बनने वाला था. लेकिन, आतंकवादियों के पकड़े जाने के साथ ही उसके मंसूबे पर पानी फिर गया व उसकी काली करतूत सबसे सामने आ गई. बोला यहां तक जा रहा है कि दिसंबर में मुर्मू जम्मू और कश्मीर आए थे. LG मुर्मू को रीसिव व सी ऑफ करने की जिम्मेदारी देविंदर सिंह को दी गई थी. इसी मौके का लाभ उठाकर देविंदर सिंह ने LG से मुलाकात की व अपने बारे में जानकारी दी. उसने बोला कि वह स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप में शामिल रहा है व उसने कई एंटी टेरर ऑपरेशन को अंजाम दिया है. उसका बोलना था कि उसके कई ऑपरेशन सफल रहे. उसने बोला कि वह सच्चा देशभक्त है व उसे प्रमोशन मिलनी चाहिए. फिलहाल, NIA सारे मुद्दे की छानबीन कर रही है व इस केस में अब तक कई चौंकाने वाले खुलासे हो चुके हैं.