घायल किसान ने इलाज के दौरान दम तोड़ा, जाने पुलिस बनी कारण

घायल किसान ने इलाज के दौरान दम तोड़ा, जाने पुलिस बनी कारण

मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले के गोराबाजार थाना क्षेत्र में पुलिस की कथित हाथापाई से किसान की मृत्यु का मुद्दा प्रकाश में आया है. घटना के बाद छह पुलिस कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है.

 पुलिस के अधिकारिक सूत्रों के अनुसार जिले के मंडला रोड स्थित तिलहरी निवासी किसान बंशी कुशवाहा से कथित रूप से हाथापाई की गई, जिससे घायल किसान ने कल रात इलाज के दौरान दमतोड़ दिया.

घटना की जानकारी लगने के बाद पुलिस अधीक्षक ने गोराबाजार थाना में पदस्थ आरोपी उप निरीक्षक आलोक सिंह, प्रधान आरक्षक मुकेश पटेरिया व आरक्षक राकेश सिंह, गुड्डू सिंह, बृजेश व आशुतोष को निलंबित कर दिया.

गत 16 अप्रैल की रात तिलहरी गांव में जब किसान बंशी कुशवाहा अपने खेत में बंधी गौ माता को चारा पानी देकर घर लौट रहा था, उसी समय थाना गोराबाजार की पुलिस तिलहरी पहुंची. वहां पुलिस द्वारा कथित तौर पर किसान से हाथापाई की गई, जिससे बाद वह घायल हो गया. उसे एक व्यक्तिगत अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां कल रात इलाज के दौरान किसान ने दमतोड़ दिया.