पुलिस ने किशनगंज कालोनी में एक महिला की मर्डर के आरोपी को किया अरैस्ट 

पुलिस ने किशनगंज कालोनी में एक महिला की मर्डर के आरोपी को किया अरैस्ट 

पुलिस ने शुक्रवार की रात उत्तरी दिल्ली के गुलाबी बाग थाना इलाके की किशनगंज कालोनी में एक महिला की मर्डर के आरोपी को अरैस्ट किया. अरैस्ट हत्यारोपी धर्मराज (22) वारदात को अंजाम देने के बाद महिला के घर से निकलता हुआ सीसीटीवी में कैद हो चुका है.

घर में घुसकर महिला के कत्ल की वारदात की समाचार पुलिस को शनिवार प्रातः काल करीब नौ बजे मिली. मौके-हालात बयां कर रहे थे कि कातिल घर में बिना रोक-टोक घुसा था. उसके बाद शनिवार की प्रातः काल  महिला का अर्धनग्न मृत शरीर उसी के फ्लैट में मिला था. सीसीटीवी फुटेज में संदिग्ध रात करीब 12 बजे महिला के घर से निकलता हुआ कैद हुआ था.

पड़ोसियों को पुलिस ने जब सीसीटीवी फुटेज दिखाई तो उन्होंने महिला के घर से देर रात निकलने वाले संदिग्ध की पहचान पड़ोस में ही रहने वाले धर्मराज के रूप में की. धर्मराज को अरैस्ट कर लिया गया. आरोपी को यह अंदेशा भी नहीं रहा होगा कि पुलिस उस तक इतनी जल्दी पहुंच जाएगी. शायद यही कारण था कि आरोपी अपने ठिकाने पर बेफिक्री से सोता हुआ मिल गया.

आरोपी ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि शुक्रवार की रात वह पूजा का सामान लेने के बहाने से महिला के घर में घुस गया. उसने महिला के साथ बलात्कार किया. पीड़िता ने गुस्से में धर्मराज के मुंह पर थूक दिया. इससे चिढ़कर धर्मराज ने गुस्से में गला दबाकर महिला की मर्डर कर दी.

उत्तरी जिला पुलिस के एक ऑफिसर के मुताबिक, “दुष्कर्म व मर्डर की वारदात को अंजाम देते वक्त आरोपी शराब के नशे में धुत था.”

पुलिस की इस बात पर मगर विश्वास करना वैसे जल्दबाजी होगी. वजहें दो हैं- पहली, पुलिस की तफ्तीश अभी बाकी है. अंत में पता नहीं ऊंट किस करवट बैठे! दूसरी, पुलिस के इस बयान का कि आरोपी ने 'वारदात को शराब के नशे में अंजाम दिया', हत्यारोपी न्यायालय में ट्रायल के दौरान कहीं नाजायज लाभ न उठा ले!