दिल्ली के रेस्टोरेंट्स में लोगों ने जमकर उड़ाईं नियमों की धज्जियां

दिल्ली के रेस्टोरेंट्स में लोगों ने जमकर उड़ाईं नियमों की धज्जियां

देश भर में लागू लॉकडाउन ( lockdown ) के करीब ढाई माह बाद जब रेस्टोरेंट्स ( restaurant ) फिर से खोले गए, तो कई स्थानों पर लोगों ने जमकर नियमों की धज्जियां उड़ाईं.

 इस सिलसिले में राजधानी दिल्ली ( Delhi ) में पुलिस ने चार लोगों को पश्चिम दिल्ली के राजौरी गार्डन ( Rajouri Garden ) के एक रेस्टोरेंट से हिरासत में लिया है. इन चारों पर बर्थडे पार्टी ( birthday party ) का आयोजन करके सोशल डिस्टेंसिंग ( social distancing ) के नियमों का उल्लंघन करने का आरोप है.

दिल्ली पुलिस ( Delhi Police ) के मुताबिक सोमवार को राजौगी गार्डन स्थित एक रेस्टोरेंट में कि 38 लोगों ने जन्मदिन की पार्टी में भाग लिया था. केन्द्र सरकार के आदेशों के बाद दिल्ली सरकार ने सोमवार से रेस्तरां, शॉपिंग मॉल ( Shopping Mall ) व पूजा स्थल खोलने का निर्णय लिया.

इन स्थानों के फिर से संचालन के विषय में केन्द्र द्वारा जारी किए गए कठोर दिशा-निर्देशों के मुताबिक, लोगों को मास्क पहनने के साथ सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करना होगा, रेस्टोरेंट्स के भीतर खाने के बजाय खाना ले जाने को बढ़ावा देने के लिए बोला गया है. वहीं, रेस्तरां के भीतर अगर खाना परोसा जाता है तो केवल 50 प्रतिशत लोगों को ही आने की अनुमति होगी.

पुलिस के मुताबिक सोमवार को इलाके में गश्त कर रहे पुलिसवालों की एक टीम को नजफगढ़ रोड पर क्यूबिटोस रेस्टोरेंट के पास कुछ गतिविधियां नजर आईं. रात करीब 9 बजे जब उन्होंने रेस्टोरेंट में औचक निरीक्षण किया, तो उन्होंने पाया कि जन्मदिन की पार्टी में 38 लोग शामिल थे व उन्हें हुक्का भी परोसा जा रहा था.

एक वरिष्ठ पुलिस ऑफिसर ने बोला कि पूछताछ के दौरान पार्टी में शामिल लोगों ने पुलिस को बताया कि वे यह मानते हुए रेस्टोरेंट पहुंचे थे कि वहां का मालिक व पार्टी के आयोजक सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करेंगे व आवश्यक सावधानी बरतेंगे.

अधिकारी ने आगे बोला कि नियमानुसार रेस्टोरेंट के भीतरर केवल 50 प्रतिशत लोगों को ही खाने की अनुमति दी जा सकती है. जिस रेस्टोरेंट में 48 लोगों के भोजन करने की क्षमता है, उसने सीमा को पार कर 38 लोगों को आने की अनुमति दी व सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का उल्लंघन किया.

गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान रेस्टोरेंट के मालिक की पहचान अक्षय चड्ढा (37), प्रबंधक मनोज कपूर (29), पार्टी के आयोजक मनन मजीद (27) व मोहम्मद आसिफ के रूप में की गई है. यह रेस्टोरेंट में अपना 25वां जन्मदिन मना रहा था. इन्हें सरकार के आदेश का पालन न करने के लिए जिम्मेदार ठहराया गया.

पुलिस उपायुक्त ( पश्चिम ) दीपक पुरोहित ने बोला कि सभी चार आरोपियों को अरैस्ट करने के बाद जमानत पर बरी कर दिया गया. उन्होंने बोला कि भारतीय दंड संहिता व सिगरेट व अन्य तंबाकू उत्पाद अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मुद्दा दर्ज किया गया है.