एक कप चाय के यहां चुकाने होते हैं 1000 रूपये, क्यों खास है यह चाय जानकर चौंक जाएंगे

एक कप चाय के यहां चुकाने होते हैं 1000 रूपये, क्यों खास है यह चाय जानकर चौंक जाएंगे

चाय एक ऐसा पेय पदार्थ है, जो हमारे दिन की शुरुआत करता है। ज्यादातर लोग सुबह और शाम को चाय पीते हैं। जबकि कामकाजी लोगों के चाय पीने का कोई टाइम नहीं होता। ऐसे लोगों को तो दिनभर में 10 बार भी चाय मिल जाएगी तब भी वे मना नहीं करेंगे। इसके अलावा कुछ लोगों को तो चाय की लत लग जाती है और जब उन्हें चाय न मिले तो वे चिड़चिड़ाने लगते हैं। अगर आप भी चाय के शौकीन हैं तो आज हम आपको एक ऐसी चाय के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसकी कीमत जानने के बाद आपके होश उड़ जाएंगे। जी हां, आमतौर पर हमें एक कप चाय के लिए 5 रुपये से 25 रुपये तक खर्च करने होते हैं। लेकिन अभी हम आपको जिस चाय के बारे में बताने जा रहे हैं, उसकी कीमत 1000 रुपये है।

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता के रहने वाले पार्थ प्रतिम गांगुली मुकुंदपुर में चाय की दुकान चलाते हैं। पार्थ की दुकान पर 12 रुपये से लेकर 1000 रुपये तक की चाय मिलती है। पार्थ की चाय दुकान का नाम निर्जश है और उनकी ये दुकान पूरे कोलकाता में प्रसिद्ध है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोलकाता घूमने आने वाले लोग निर्जश की चाय पीने जरूर आते हैं। हैरानी की बात ये है कि पार्थ की दुकान किसी बड़े शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में नहीं बल्कि सड़क के किनारे बाकी चाय दुकानों की तरह ही है।

पार्थ की दुकान पर 100 अलग-अलग किस्म की चाय मिलती हैं। इनमें सिल्वर नीडल वाइट टी, लैवेंडर टी, हिबिस्कस टी, वाइन टी, तुलसी जिंजर टी, ब्लू टिश्यन टी, तीस्ता वैली टी, मकईबारी टी, रूबियोस टी और ओक्टी टी आदि शामिल हैं। पार्थ की दुकान पर मिलने वाली Bo-Lay Tea की कीमत 1 हजार रुपये है। दरअसल, इस चाय में डाली जाने वाली Bo Lay चाय की कीमत 3 लाख रुपये प्रति किलो है। यही वजह है कि इसके कप चाय की कीमत 1 हजार रुपये है। पार्थ ने साल 2014 में चाय की दुकान खोली थी। इससे पहले वे नौकरी करते थे।


OMG! इस प्रदेश में कुत्तों से अधिक खूंखार बिल्लियां, अभी तक इतने लोग हुए शिकार

OMG! इस प्रदेश में कुत्तों से अधिक खूंखार बिल्लियां, अभी तक इतने लोग हुए शिकार

तिरुवनंतपुरम: केरल में लोगों को कुत्तों से अधिक डर बिल्लियों का है और प्रदेश में पिछले कुछ सालों में बिल्लियों के काटने के मुद्दे कुत्तों के काटने की तुलना में कहीं अधिक सामने आए हैं इस वर्ष केवल जनवरी माह में ही बिल्लियों के काटने के 28,186 मुद्दे सामने आए जबकि कुत्तों के काटने के 20,875 मुद्दे थे

राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने हाल ही में एक आरटीआई (सूचना का अधिकार) के उत्तर में यह जानकारी दी

राज्य स्वास्थ्य निदेशालय के अनुसार, पिछले कुछ सालों से बिल्लियों के काटने का उपचार कराने वालों की संख्या कुत्तों के काटने का उपचार कराने वालों से अधिक है

आंकड़ों के अनुसार, इस वर्ष केवल जनवरी में बिल्लियों के काटने के 28,186 मुद्दे सामने आए जबकि कुत्तों के काटने के 20,875 मुद्दे थे प्रदेश के पशु संगठन, ‘एनिमल लीगल फोर्स’ द्वारा दाखिल आरटीआई के उत्तर में यह आंकड़े दिए गए इसमें 2013 और 2021 के बीच कुत्तों और बिल्लियों द्वारा काटने के आंकड़ों के साथ ‘एंटी-रेबीज’ टीके और सीरम पर खर्च की गई राशि की भी जानकारी दी गई है

आंकड़ों के अनुसार, 2016 से बिल्लियों के काटने के मुद्दे में वृद्धि हुई है 2016 में बिल्लियों से काटने का 1,60,534 इतने लोगों ने उपचार कराया जबकि कुत्तों के काटने के 1,35,217 मुद्दे सामने आए 2017 में बिल्लियों के काटने के 1,60,785 मामले, 2018 में 1,75,368 और 2019 और 2020 में यह बढ़कर क्रमश: 2,04,625 और 2,16,551 हो गए दक्षिणी प्रदेश में 2014 से लेकर 2020 तक बिल्लियों के काटने के मामलों में 128 फीसदी वृद्धि हुई

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, 2017 में कुत्तों के काटने के 1,35,749, साल 2018 में 1,48,365, साल 2019 में 1,61,050 और साल 2020 में 1,60,483 मुद्दे सामने आए रेबीज से पिछले वर्ष पांच लोगों की मृत्यु हुई थी


मध्य नेपाल में बाढ़ के कहर से एक की मौत, कई लोगों के लापता होने की आशंका       चीन के 28 लड़ाकू विमानों ने फिर ताइवान के एयरस्पेस में भरी उड़ान       ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में कोरोना वायरस के प्रकोप के बावजूद लोगों को शहर छोड़ने की मिली अनुमति       जरायल ने गाजा पर किए हवाई हमले, सेना ने पुष्टि कर कहा...       कैलिफोर्निया में वैक्सीन जैकपॉट, जानें दस विजेताओं को मिलेगी कितनी धनराशि       नासा के रोवर परसिवरेंस ने मार्स पर देखी धरती पर मौजूद वॉल्‍केनिक रॉक जैसी चट्टान       दस वर्ष बाद पहली बार आज मिलेंगे बाइडन और पुतिन, तनातनी के बीच जानें       अब तक चोरी की घटना का कोई सुराग नहीं,पीड़ित परिवार से मिलकर जिला प्रधान ने जाना हाल-चाल, शहर की विधि व्यवस्था पर एसपी से करूंगी बात: शालिनी       भारतीय मूल की सरला विद्या बनीं अमेरिका में संघीय जज, बाइडन ने किया मनोनीत       सरला से बढ़ा भारत का मान, बाइडन ने किया कनेक्टिकट राज्‍य का संघीय जज मनोनीत, जानें       बाइडन ने पुतिन को कहा था 'हत्‍यारा', जानें- जिनेवा में उनसे मुलाकात के पूर्व कैसे पड़े नरम, कही ये बात       अंतरिक्ष में Manned Mission को तैयार चीन, कल रवाना होंगे तीन एस्‍ट्रॉनॉट्स       रेडिएशन लीकेज से चीन का इनकार, कहा...       पाक सेना प्रमुख बाजवा ने अफगानिस्तान के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा पर ...       पाक की संसद में जमकर हुआ हंगामा, सत्तापक्ष और विपक्ष के सदस्यों ने एक दूसरे पर फेंके बजट के दस्तावेज       सिंध में पैसे देकर कोई कुछ भी कर सकता है, प्रांत में नहीं है सरकार जैसी कोई चीज- चीफ जस्टिस ऑफ पाकिस्‍तान       कुलभूषण जाधव मामले में इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने सुनवाई 5 अक्टूबर तक टाली       पाकिस्तान : 13 साल की लड़की का जबरन धर्म परिवर्तन कर कराया गया निकाह       फेक न्यूज प्रसारित करने वालों पर सीएम योगी सख्त, बोले- संप्रदायिक उन्माद फैलाने की कोशिश नहीं स्वीकार       इंजीनियरिंग और पॉलिटेक्निक कॉलेजों में इस वर्ष नहीं बढ़ेगी फीस, योगी सरकार का बड़ा फैसला