हत्या और दुष्कर्म के झूठे केस में कारागार में काटे 37 साल, DNA टेस्ट के बाद कोई और निकला दोषी

हत्या और दुष्कर्म के झूठे केस में कारागार में काटे 37 साल, DNA टेस्ट के बाद कोई और निकला दोषी

वॉशिंगटन
अमेरिका में एक आदमी को मर्डर और दुष्कर्म के झूठे मुद्दे में 37 वर्ष कारागार में गुजारने पड़े. अब रिहा होने के बाद शख्स ने पुलिस ऑफिसरों और फोरेंसिक डेंटिस्ट के विरूद्ध केस दर्ज करवाया है. 56 वर्ष के रॉबर्ट डुबोइस को 1983 में बारबरा ग्राम्स नाम की एक महिला की मर्डर और दुष्कर्म के मुद्दे में आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी. दोषी पाए जाने के बाद डुबोइस को तीन वर्ष सज़ा-ए-मौत पाए कैदियों के साथ रखा गया था.


डीएनएन नहीं मिलने पर किया गया रिहा
पिछले वर्ष इस मुद्दे में नए डीएनए सबूतों को टेस्ट किया गया. इसमें पता चला कि बारबरा ग्राम्स की मर्डर रॉबर्ट डुबोइस ने नहीं की थी. जिसके बाद 2020 में रॉबर्ट डुबोइस को बरी कर दिया गया था. बताया जा रहा है कि उस समय पुलिस ऑफिसरों और फोरेंसिक डॉक्टर ने सबूतों के साथ छेड़छाड़ कर रॉबर्ट को फंसाया था.


दोषी पुलिसवालों और डॉक्टर के विरूद्ध केस
द टैम्पा बे टाइम्स के अनुसार, इस सप्ताह रॉबर्ट ने फेडरल न्यायालय में तीन पूर्व डिटेक्टिव, एक पूर्व पुलिस सार्जेंट और एक एक फोरेंसिक डेंटिस्ट के विरूद्ध केस दायर किया है. इसमें बोला गया है कि इन लोगों ने रॉबर्ट को बारबरा ग्राम्स की मर्डर और दुष्कर्म के मुद्दे में झूठे सबूत गढ़कर गलत ढंग से फंसाया था.


दांत काटने के निशान के आधार पर दोषी करार दिया गया
बारबरा ग्राम्स का मृत शरीर 19 अगस्त 1983 को टैम्पा में एक डेंटल कार्यालय के बाहर यॉर्ड में मिला था. जाँच में पता चला कि 19 वर्ष की ग्राम्स को दुष्कर्म करने के बाद बुरी तरह से पीटा गया था. तब जांचकर्ताओं ने बोला था कि उन्हें उसके गाल पर काटने का निशान मिला है. इस रिपोर्ट में बताया गया है कि तब पुलिस ने मधुमक्खी के मोम का इस्तेमाल दांत काटने के निशान की जाँच के लिए किया था. इसी संदिग्ध ढंग के आधार पर पुलिस ने दावा किया था कि ये निशान रॉबर्ट डुबोइस के दांत के निशान से मेल खा रहे हैं.


2020 में हुई डीएनए की जांच
बड़ी बात यह है कि तब न्यायालय ने भी इसी सबूत के आधार पर डुबोइस को दोषी करार देकर कारागार भेज दिया था. जांचकर्ताओं ने घटना के समय उस महिला के बलात्कार किट में डीएनए सैंपल्स को रखा हुआ था. जब 2020 में न्यायालय के आदेश पर डीएनए सैंपल की जाँच हुई तो वह रॉबर्ट डुबोइस से मेल नहीं खाया.


मुआवजे के लिए विधानसभा में बिल
अब फ्लोरिडा की विधानसभा में मुआवजे को लेकर बिल पेश किया जाएगा. यदि इस बिल को विधानसभा की स्वीकृति मिल जाती है तो डुबोइस को गलत ढंग से कारागार में कैद रखने के एवज में 1.85 मिलियन US डॉलर मिल सकते हैं.


लोगों के गंदे बाथरूम साफ कर लखपति बनी नौकरानी, 3 दिन में सैलरी जान उड़ जाएंगे होश!

लोगों के गंदे बाथरूम साफ कर लखपति बनी नौकरानी, 3 दिन में सैलरी जान उड़ जाएंगे होश!

हममें से ज्यादातर लोग नौकरानियों को गरीब और निर्बल समझते हैं लोगों को लगता है कि जो पढ़-लिख नहीं पाए, वो मज़बूरी में दूसरों के घरों में कार्य करते हैं दूसरों के घरों में झाड़ू-पोंछा कर, बाथरूम और गंदे बर्तन धोकर किसी तरह अपना गुजारा करते हैं यदि आपको भी ऐसा लगता है तो शायद अमेरिका (America) के केटिया (Ketia) की स्टोरी जानने के बाद आपकी ग़लतफ़हमी दूर हो जाएगी केटिया ने लोगों के साथ अपने क्लीनिंग बिजनेस को डिस्कस कर जब उसकी इनकम बताई, तो सभी का मुंह खुला रह गया

केटिया ने औनलाइन लोगों के साथ अपनी इनकम डिस्क्लोज की उसने बताया कि लोग उसका मजाक उड़ाते हैं वो दूसरों के घरों के बाथरूम और टॉयलेट साफ़ करती है जब लोगों को इसका पता चलता है तो वो केटिया को इग्नोर करते हैं और उसे नीचा दिखाने की प्रयास करते हैं लेकिन केटिया को इन सबसे कोई फर्क नहीं पड़ता उसने बताया कि वो अपनी नौकरी से बहुत ज्यादा प्यार करती है उसे सफाई करना पसंद था इसलिए उसने इसे अपना प्रोफेशन बना लिया केटिया ने दावा किया है कि केवल तीन दिन में वो इस कार्य के जरिये 720 यूरो यानी लगभग 80 हजार रुपए कमा लेती है

लखपति नौकरानी ने सबका ध्यान खींच लिया

केटिया ने अपना क्लीनिंग बिजनेस स्टार्ट किया इसके अंदर उसे कर तो देना पड़ता है लेकिन उसकी इनकम अधिक है विदेशों में नौकरानियां कंपनी द्वारा हायर की जताई है इससे सेफ्टी का भरोसा रहता है लेकिन केटिया ने बताया कि दूसरी कंपनी द्वारा हायर होने पर ब्रोकर ही अच्छा ख़ासा पैसा खा जाता है इसलिए उसने स्वयं का क्लीनिंग बिजनेस स्टार्ट करने की सोची अब केटिया मात्र तीन दिन में अस्सी हजार तक कमा लेती है

बाथरूम साफ करते हुए वीडियो बनाती है ये नौकरानी

केटिया ने अपना एक टिकटोक एकाउंट भी बना रखा है उसपर वो लोगों बाथरूम और टॉयलेट साफ़ करती नजर आती है केटिया ने बताया कि वो ज्यादातर कार्य महंगे पॉश एरिया में करती है वहां इनकम बहुत ज्यादा अधिक है केटिया का वीडियो देखने के बाद लोगों ने आश्चर्य जताई कई लोगों ने कमेंट करते हुए लिखा कि वो अपनी प्राइवेट नौकरी छोड़ अब स्वयं का क्लीनिंग बिजनेस स्टार्ट करने की सोच रहे हैं देखते ही देखते केटिया वायरल हो गई है