वायरल

7 साल पहले 27 लाख रुपये का हीरा लेकर फरार हुए व्यापारी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

 सात वर्ष पहले मुंबई के हीरा व्यापारी का करीब 27 लाख रुपये का हीरा लेकर फरार हुए व्यापारी को मुम्बई अपराध ब्रांच ने गीता प्रेस रोड स्थित एक दुकान से उसे अरैस्ट किया. राजघाट क्षेत्र में किराये पर कमरा लेकर न केवल व्यापारी रह रहा था बल्कि दुकान पर का भी करता था. राजघाट पुलिस, साइबर थाना और सर्विलांस टीम की सहायता से मुंबई की अपराध ब्रांच पुलिस आरोपी भोला प्रसाद (60) को अरैस्ट करने में सफल हुई और उसे मुंबई लेकर चली गई.

पुलिस ने कहा कि साल 2017 में हीरा व्यापारी को विश्वासघात देने के इल्जाम में मुंबई के बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स पुलिस स्टेशन में भोला प्रसाद पर धोखाड़ी समेत विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था. भोला प्रसाद ने बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स क्षेत्र के ही एक हीरा व्यापारी से 26.91 लाख रुपये का हीरे लेकर फरार हो गया था. भोला प्रसाद साल 2003 से ही मुंबई में रह रहा था. वहां पर एक किराये की दुकान लेकर उसमे हीरे का ही छोटा मोटा व्यापार करता था. इसलिए हीरा व्यापारियों को उस पर विश्वास हो गया था और उसे 26.91 लाख के हीरे उधार में मिल गए थे. बाद में भोला प्रसाद की नीयत खराब हुई और वह हीरे का पैसा दिए बिना ही फरार होकर गोरखपुर आ गया. भोला प्रसाद ने राजघाट के घंटाघर क्षेत्र में किराये का कमरा लेकर रहने लगा और रेती चौक स्थित महा लक्ष्मी टेक्सटाइल्स ट्रेडर्स नामक दुकान पर काम करता था. उसके साथ पत्नी और एक बेटा मनीष भी रहता है. कोविड-19 काल में उसके एक बेटे की मृत्यु भी हो गई थी. मनीष भी एक दुकान पर हेल्पर का काम करता है.

पुलिस ने लगा दिया था एफआर
सात वर्ष पुराने मुकदमा में बीकेसी पुलिस ने फाइनल रिपोर्ट (एफआर) लगा दिया था. हालांकि वादी ने न्यायालय से दोबारा जांच का आदेश कराया था. उसके बाद पुलिस ने जांच प्रारम्भ की तो भोला प्रसाद की लोकेशन गोरखपुर मिली. जिसके बाद मुंबई पुलिस ने गोरखपुर पुलिस से सहायता मांगी थी.

Related Articles

Back to top button