कुरकुरे चिप्‍स के पैकेट आधे खाली क्‍यों रहते हैं, एक्‍सपर्ट ने बताई वजह

कुरकुरे चिप्‍स के पैकेट आधे खाली क्‍यों रहते हैं, एक्‍सपर्ट ने बताई वजह

बीते दिनों एक अध्‍ययन हुआ था जिससे पता चला कि कुरकुरे का पैकेट औसतन 72 फीसदी खाली है यानी उनमें केवल 28 फीसदी ही कुरकुरे भरा गया है आप कहेंगे कंपनी तो छल कर रही है जब इतना बड़ा पैकेट बनाया है तो उसमें सामान भी होना चाह‍िए पर एक्‍सपर्ट का बोलना है कि ऐसा साइंटिफ‍िक वजहों से किया जाता है

ब्रिटेन के स्नैक, नट और क्रिस्प मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन के अनुसार, क्रिस्प बैग में अतिरिक्त स्थान उत्पाद को ताज़ा रखने के साथ-साथ सुरक्षित भी रखती है इसमें बासीपन को रोकने के लिए नाइट्रोजन गैस डाली जाती है यह वायुरोधी होती है और पैकेट में उपस्थित खाद्य पदार्थ को जल्‍दी खराब होने से बचाती है इतना ही नहीं, आप देखेंगे कि यह पैकेट तापमान के मुताबिक फूलता पिचकता रहता है जब मौसम ज्‍यादा गर्म हो तो पैकेट आपको फूला फूला नजर आएगा और जब ठंडी हो तो यह छोटा दिखेगा

ज्‍यादा गैस मतलब ज्‍यादा दिन तक रख सकेंगे
आपको यह जानकर भी आश्चर्य होगी कि अधिकतर इस तरह के क्रिस्‍प पैकेट को 55 दिन के लिए बनाया जाता है यानी इसमें रखा सामान 55 दिन तक सबसे अच्‍छा रहता है लेकिन पॉपचिप्‍स जिसमें सबसे ज्‍यादा नाइट्रोजन गैस भरी जाती है उसे 290 दिनों से भी ज्‍यादा समय तक रखा जा सकता है उसमें रखा सामान खराब नहीं होगा पैकेट ठीक ऊपर तक नहीं भरे जाने का एक और भी कारण है यह सामान बहुत नाजुक होते हैं और बहुत सरलता से कुचले जा सकते हैं ऐसा होने से रोकने के लिए भी पैक में हवा डाला जाता है

खाली स्थान का खास नाम भी
आपको बता दें कि इस खाली स्थान का भी एक खास नाम है उद्योग की दुनिया में इसे ‘नॉन फंक्‍शनल स्‍लैक फ‍िल’ के नाम से जाना जाता है स्लैक फिल हर स्नैक्स, नट्स, कैंडी में होता है लेक‍िन इसकी वजह से वजन कम नहीं होता यदि यह कहता है कि दो पाउंड हैं, तो दो पाउंड हैं कई निर्माता तो थोडा ज्‍यादा भी डाल देते हैं लेकिन यदि कंटेनर को चार पाउंड रखने के लिए डिज़ाइन किया गया है और इसमें सिर्फ दो पाउंड हैं, तो जाहिर है कि यह सिर्फ 50 फीसदी भरा हुआ है