वायरल

भोपाल की सेंट्रल जेल परिसर में युवक की हत्या, सभी आरोपी फरार

भोपाल की सेंट्रल कारावास परिसर में स्थित सांची पार्लर के बाहर पुरुष की मर्डर का मुद्दा सामने आया है. घटना शुक्रवार शाम की है. देर रात पुलिस को मुद्दे की सूचना मिली. पुलिस ने चार लुटेरों के विरुद्ध नामजद एफआईआर दर्ज कर ली है. हमले में एक पुरुष की हालत नाजुक बनी

जानकारी के अनुसार झगड़े में पंचशील नगर निवासी सुरेंद्र कुशवाहा (27) पुत्र घनश्याम कुशवाह की मृत्यु हुई है. जबकि उसका साथी विकास वर्मा गंभीर रूप से घायल हो गया. दोनों प्रीयदर्शीनी नगर के रहने वाले हैं. मर्डर के इस मुद्दे में गांधी नगर पुलिस आरोपी संदेश नरवारे, आकाश भदौरिया, छोटा चेतन उर्फ फैसल और दीपांशु सेन की तलाश प्रारम्भ कर दी है.

एडिशनल डीसीपी जोन-4, मलकीतसिंह ने कहा कि विकास वर्मा अपने दोस्त ईशु खरे के साथ उसके बड़े भाई सतीश खरे को कारावास छोड़ने गया था. रास्ते में उसे सुरेंद्र कुशवाहा भी मिल गया था. सतीश को कारावास छोड़ने के बाद शाम करीब छह बजे वे लोग कारावास परिसर के बाहर पहुंचे थे, तभी संदेश नरवारे, आकाश भदौरिया, छोटा चेतन उर्फ फैसल और दीपांशु सेन ने उन लोगों पर चाकू से धावा कर दिया और फरार हो गए. सुरेंद्र और विकास को गंभीर चोट लगने के कारण हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया. जहां कुछ देर पर सुरेंद्र की मृत्यु हो गई.

पुलिस पहुंचने से पहले घायल को ले गए थे साथी

बताया जा रहा है कि हमले की सूचना कारावास स्टॉफ ने पुलिस को दी थी. इससे पहले ही सुरेंद्र और विकास को उसके साथी कार से पहले हमीदिया हॉस्पिटल फिर एम्स हॉस्पिटल पहुंचाया. जहां सुरेंद्र को मृत घोषित कर दिया. घायल विकास को हजैला हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया गया है. जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है.

जान बचाने कारावास गेट की ओर भागा

पुलिस सूत्रों के अनुसार हमले के दौरान सुरेंद्र दौड़ता हुआ सेंट्रल कारावास के गेट नंबर 2 के सामने पहुंचा और बेसुध होकर जमीन पर गिर पड़ा. हालांकि कोई कुछ कर पाता इससे पहले ही उसके साथी उसे कार बैठाकर हॉस्पिटल ले गए. पुलिस मुद्दे की जांच कर रही है.

Related Articles

Back to top button