वायरल

टेस्ला का 50 लाख का इलेक्ट्रिक मॉडल, एक बार पानी से धोया तो नहीं हुआ चालू, पढ़ें ओनर का दर्द

बीते वर्ष टेस्ला के इलेकट्रिक साइबरट्रक के एक्सीडेंट से जुड़ा एक मुद्दा सामने आया था. इस एक्सीडेंट में इस साइबरट्रक से टकराने वाली टोयोटा की कार के परखच्चे उड़ गए थे. जबकि साइबरट्रक पूरी तरह सेफ रहा. इस एक्सीडेंट से साइबरट्रक की मजबूती की डिटेल सामने आ गई थी. हालांकि, अब साइबरट्रक से जुड़ा एक ऐसा वीडियो सामने आया है जिसमें ऐसा दावा किया जा रहा है पहली बार धुलने पर ही इस वाहन की हातल खराब हो गई. यानी ये साइबरट्रक धुलने के बाद चालू ही नहीं हुआ.

दरअसल, टेस्ला साइबरट्रक के एक ओनर ने अपनी आपबीती बताई है. उन्होंने वीडियो शेयर करते हुए कहा कि एक बार धुलने के बाद साइबरट्रक ने काम करना बंद कर दिया. टेस्ला द्वारा बताए गए उपायों को आजमाने पर भी यह वाहन स्टार्ट नहीं हुई. इससे अजीब आवाजें आने लगी. ओनर ने वाहन से धूल-मिट्टी साफ कराने के लिए साइबरट्रक को वॉश करवाया था. इतने में ही इसकी स्क्रीन बंद हो गई और कई कोशिशें के बाद भी ऑन नहीं हुई.

साइबरट्रक ओनर ने कहा कि जब उन्होंने अपने साइबरट्रक को रिसेट करने का प्रयास की, तो इसके डैशबोर्ड से अजीब आवाज आने लगी. कई प्रयासों के बाद मालिक थककर सो गया. अगली सुबह फिर से प्रयास करने पर साइबरट्रक पूरी तरह से रिबूट होने के बाद स्टार्ट हुआ. पहली बार ऐसा वाक्या सामने आया है. हालांकि, मजबूती के मुद्दे में ये ट्रक पूरी तरह हिट है.

टेस्ला इलेक्ट्रिक पिकअप साइबरट्रक फीचर्स और स्सेपिशिकेशंस

साइबरट्रक को 3 वैरिएंट रियर व्हील ड्राइव, ऑल-व्हील ड्राइव और साइबरबीस्ट में खरीद सकते हैं. कंपनी ने इसे पहली बार 2019 में पेश किया था. इसको 39,900 $ यानी करीब 33 लाख रुपए में लॉन्च किया जाना था, लेकिन अब इसकी मूल्य 50 लाख रुपए के पार पहुंच गई है. इसे करीब 19 लाख लोग बुक कर चुके हैं.

इस साइबरट्रक का ओवरऑल डिजाइन बॉक्सी है. टेस्ला ने इस साइबर ट्रेक के बॉडी पैनल के लिए स्टेनलेस स्टील सुपर एलॉय मेटल डेवलप किया, जो पिकअप को जबरदस्त मजबूती देता है. ये बुलेट प्रूफ भी है. इस पर पॉइंट 45 कैलिबर टॉमी गन, एक हैंडगन और एक सबमशीन गन के हमले की टेस्टिंग भी की गई है.

अन्य टेस्ला मॉडलों की तरह साइबरट्रक में भी इंजन नहीं होने की वजह से बोनट के नीचे एक ‘फ्रंक’ मिलता है. यह एक तरह का छोटा सा स्टोरेज होता है. एलन मस्क ने कहा कि कंपनी मैक्सिमम कैपेसिटी के साथ सायबरट्रक की हर वर्ष 3.75 लाख यूनिट बनाएगी. नए ऑर्डर करने वाले बायर्स को डिलीवरी के लिए 5 वर्ष का प्रतीक्षा करना पड़ सकता है.

जहां तक इसके इंटीरियर की बात है तो इसका इंटीरियर लुक यूनीक वाइट और ग्रे थीम पर बेस्ड है. इसका डैशबोर्ड लेआउट अन्य टेस्ला मॉडल्स की तरह प्लेन और सिंपल है. डैशबोर्ड के सेंटर में 18.5-इंच की बड़ी टचस्क्रीन डिस्प्ले भी है. स्टीयरिंग व्हील टिपिकल टेस्ला कारों जैसा ही स्क्वायर शेप में है. इसमें चाइल्ड लॉक, हेडलैंप, सेंट्री मोड, कार वॉश मोड और कुछ अन्य कंट्रोलर भी मिलते हैं. रियर पैसेंजर के लिए भी 9.4-इंच की टचस्क्रीन दी है.

Related Articles

Back to top button