टूरिस्ट बनकर नैनीताल आए दिल्ली के चोर

टूरिस्ट बनकर नैनीताल आए दिल्ली के चोर

उत्तराखंड की राजधानी के डोईवाला क्षेत्र में एक शख्स की मृत शरीर घर में मिलने के बाद सनसनी फैल गई, जिसे शुरुआती जांच में पुलिस खुदकुशी का मुकदमा मान रही है दून में ही पिछले दिनों एक फर्ज़ी काॅल सेंटर पर छापेमारी की गई थी, अब उसमें दंग करने वाला खुलासा यह है कि यहां 225 करोड़ का लेन देन हुआ अब इस मुद्दे में ईडी, CBI और अन्य एजेंसियों को खबरदार किया गया है इधर, उधमसिंह नगर ज़िले से मानव स्मग्लिंग के संदिग्ध मुद्दे में चुराए गए बच्चे को उत्तर प्रदेश से बरामद कर पुलिस ने जिस स्त्री को अरैस्ट किया है, वह बांगलादेशी है और कई हैरतअंगेज़ तथ्य सामने आने के बाद संदेह है कि बच्चे चुराने वाले किसी इंटरनेशनल रैकेट से जुड़ी हो सकती है

उधमसिंह नगर के पुलभट्टा थाना क्षेत्र से चोरी 3 महीने के बच्चे को पुलिस ने बुलंदशहर से बरामद कर मुख्य आरोपी स्त्री नैना और उसके साथी को अरैस्ट किया चौंकाने वाली बात है कि नैना मूल रूप से बांग्लादेश की रहने वाली है और पश्चिम बंगाल में नादिया जिले में मामा के घर रहती थी पहले बिहार, फिर उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में 6 लोगों से विवाह कर चुकी है इतना ही नहीं विवाह करने के लिए उसने कई बार अपने नाम भी बदले नैना तीन महीने से सतुईया गांव में उमेश के साथ लिव इन में रह रही थी और मौका लगते ही उसके छोटे भाई प्रेम के बेटे को लेकर फरार हो गई थी दोनों आरोपी बच्चे को कलकत्ता ले जाकर बेचने की फिराक में थे पुलिस ने बताया कि शातिर स्त्री की नागरिकता, अंतरराष्ट्रीय बच्चा चोर रैकेट के साथ कनेक्शन जैसे पहलुओं पर जांच की जा रही है

गोली लगने सं संदिग्ध मौत

डोईवाला कोतवाली क्षेत्र के नागल ज्वालापुर गांव में 30 वर्ष के राहुल चौधरी का मृत शरीर उसके घर में मिलने से क्षेत्र में हड़कंप मच गया घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची बताया जा रहा है कि मृत शरीर 3 से 4 दिन पुराना हो सकता है और शव के पास देशी असलहा मिलने से अंदाजा यह भी है कि मृतक राहुल ने स्वयं को गोली मारकर खुदकुशी की हो हालांकि पुलिस कई एंगल से मुद्दे की जांच कर रही है

STF  ने 10 एजेंसियों को किया अलर्ट

बीते दिनों STF ने देहरादून में चल रहे फर्जी इंटरनेशनल कॉल सेंटर पर कार्रवाई कर 14 लोगों को अरेस्ट किया था जांच में अब चौंकाने वाले फैक्ट मिले हैं ए टू जेड सॉल्यूशन के नाम से चल रहे इस फर्जी कॉल सेंटर के बैंक खातों से 225 करोड़ से ज़्यादा का लेनदेन हुआ है STF ने ईडी, आईबी, सीबीआई, आरओसी, डिपॉर्टमेंट ऑफ टेलीकम्युनिकेशन जैसी 10 एजेंसियों को जानकारी भेजी है

यह काॅल सेंटर साइबर ठगी के साथ ही मनी लॉन्ड्रिंग और हवाला जैसे कारनामों को अंजाम दे रहा था एसटीएफ के मुताबिक इस फर्जी इंटरनेशनल कॉल सेंटर के संचालन में एक संदिग्ध मीडिया हाउस का कनेक्शन भी सामने आया है बताया जा रहा है कि कॉल सेंटर की आड़ में हवाला के ज़रिये पैसा हिंदुस्तान लाया जा रहा था इसी संदिग्ध मीडिया हाउस से जुड़ा आरोपी फरार है, जिसे एसटीएफ लगातार तलाश कर रही है

टूरिस्ट बनकर नैनीताल आए दिल्ली के चोर!

पर्यटक बनकर आए तीन लोगों ने पहले नैनीताल के एक होटल में कमरा लिया और फिर किराए पर एक स्कूटी और उसके बाद रातोंरात एक के बाद एक 14 गाड़ियों की बैटरी चोरी कर डाली चोरी का खुलासा तब हुआ, जब सुबह लोगों ने अपनी कार स्टार्ट की घटना नैनीताल मुख्य शहर और उससे 10 किलोमीटर दूर ज्योलीकोट कस्बे की है, जहां 15 जून की रात शातिराना चोरी को अंजाम दिया गया 16 जून को एकएक कर कुल 20 लोग थाने और चौकी पहुंचे, कार से बैटरी चोरी की कम्पलेन की सीसीटीवी और होटलों के रिकाॅर्ड चेक करने के बाद पुलिस ने मुकदमा में खुलासा किया दिल्ली के मोहम्मद सगीर और चांद मोहम्मद को पुलिस ने दिल्ली से ही अरैस्ट कर बैटरियां बरामद की हैं, जबकि मुख्य आरोपी मोहम्मद आरिफ अभी भी फरार है

इधर, टिहरी ज़िले के धनौल्टी में एक चिटफंड कंपनी पर लाखों रुपये हड़पने का आरोप लगा है धनौल्टी में 4साल से शक्ति बैंक नाम से यह चिटफंड कंपनी चल रही थी, जिसके बंद होने पर क्षेत्रीय दुकानदार और ग्रामीण भड़क गए और अच्छा खासा हंगामा कर डाला बैंक मैनेजर ने 10 दिन में सभी के पैसे लौटाने का आश्वासन दिया है और अभी इस मुद्दे में लोग पुलिस की शरण ले रहे हैं