ग्रामीण क्षेत्रों के मतदाताओं ने पूरे उत्साह से लिया भाग

ग्रामीण क्षेत्रों के मतदाताओं ने पूरे उत्साह से लिया भाग

कर्नाटक विधानसभा क ी 15 सीटों के लिए हुए उपचुनाव में गुरुवार शाम छह बजे तक लगभग 62.18 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया. इन सीटों का परिणाम प्रदेश का सियासी भविष्य तय करने वाला साबित होगा.

ग्रामीण क्षेत्रों के मतदाताओं ने सारे उत्साह से भाग लिया. आठ ग्रामीण क्षेत्रों में 75 फीसद से ज्यादा ओर बेंगलुरु के चार क्षेत्रों में 50 फीसद से कम मतदान हुआ. सबसे ज्यादा मतदान ग्रामीण क्षेत्र चिक्कबल्लापुर में हुआ जहां 86.40 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया. बेंगलुरु के पूर्वी उपनगर केआर पुरा में सबसे कम 37.50 फीसद मतदान हुआ.

उत्तर कन्नड़ जिले के येल्लापुर में 77.52 फीसद मतदान होने की जानकारी मिली है. बेंगलुरु ग्रामीण जिले के होसकोट में 76.19 फीसद मतदान होने की जानकारी दी गई है. इसी सीट से बीजेपी प्रत्याशी एमटीबी नागराज ने 1,223 करोड़ रुपये की संपत्ति घोषित की है. बेलगावी जिले में अथानी क्षेत्र में 75.23 फीसद मतदान होने की सूचना है.

कर्नाटक में 15 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए मतदान हो गए हैं. उपचुनाव के नतीजे 09 दिसंबर को आएंगे. इन नतीजों से कर्नाटक के मौजूदा सीएम बीएस येदियुरप्पा की प्रतिनिधित्व वाली बीजेपी सरकार की भाग्य का निर्णय होना है. कर्नाटक की 225 सदस्यीय विधानसभा (स्पीकर सहित) में बीजेपी को सत्‍ता में बने रहने के लिए कम से कम छह सीटों की दरकार है. आज जिन 15 सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं उनमें 12 पर कांग्रेस पार्टी व तीन पर जेडीएस का अतिक्रमण था. मौजूदा वक्‍त में बीजेपी के पास 105 (एक निर्दलीय) विधायक, कांग्रेस पार्टी के पास 66 व जेडीएस के पास 34 एमएलए हैं. इनके अतिरिक्त बीएसपी का एक मनोनीत विधायक के साथ अध्यक्ष भी शामिल हैं.