उत्तर प्रदेश के महराजगंज जिले को मुक्ति के बाद फिर किया गया सील

उत्तर प्रदेश के महराजगंज जिले को मुक्ति के बाद फिर किया गया सील

उत्तर प्रदेश के महराजगंज जिले के पनियरा थाना क्षेत्र के रतनपुरवा गांव में कोरोना का एक मरीज मिलने पर गांव को सील कर दिया गया है. स्वास्थ्य विभाग ने कार्रवाई तेज कर दी है. गांव को सील करने के साथ ही महत्वपूर्ण कदम उठाए जा रहे हैं. स्वास्थ्य अधिकारियों ने गांव में पहुंचकर निरोधात्मक कार्रवाई प्रारम्भ कर दी है.

मिली जानकारी के अनुसार करीब छह दिन पहले पनियरा क्षेत्र रतनपुरवा गांव का एक आदमी दिल्ली से आया था. आदमी की जाँच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद गांव रतनपुरवा को सील कर दिया गया. वहीं संक्रमित के घर के तीन लोगों को क्वारंटीन कर दिया गया है. डीएम डॉ उज्ज्वल कुमार ने बताया कि संदिग्ध का नमूना मंगलवार को जाँच के लिए भेजा गया था. बृहस्पतिवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आई. बचाव के लिए सभी महत्वपूर्ण कदम उठाया जा रहे हैं, स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव में भेजी गई है.उन्होंने बोला इसके अतिरिक्त अन्य महत्वपूर्ण कदम उठाए जा रहे हैं. गांव के लोगों को हर आवश्यकता की सामग्री को उपलब्ध करा दी जाएगी. किसी को बाहर आने जाने की छूट नहीं होगी.

संक्रमित आदमी के सम्पर्क में आने वालों के बारे में एकत्र की जा रही जानकारी

रतनपुरवा गांव में आवागमन पर रोक लगा दी गई है. संक्रमित आदमी के सम्पर्क में आने वालों के बारे में जानकारी एकत्रित की जा रही है कि वह किन-किन लोगों के सम्पर्क में आया था, दिल्ली से घर आने के दौरान कहां-कहां रुका था व किससे मिला था आदि के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है.

बताया जा रहा है कि वह दिल्ली से पत्नी के साथ आया था व अपने घर पर ही रह रहा था. परिवार में पत्नी के अतिरिक्त एक बेटी है. पॉजिटिव मिलने के बाद संक्रमित के घर के सभी सदस्यों को  महिला अस्पताल में क्वारंटीन कर दिया गया है.
 
इलाज कराने के मसले पर हो रही चर्चा
सीएमओ डॉ एके श्रीवास्तव ने बताया कि संक्रमित आदमी के परिवार के सभी सदस्यों को महिला अस्पताल में क्वारंटीन किया गया है. संक्रमित आदमी के उपचार की व्यवस्था के लिए विचार विमर्श किया जा रहा है कि उसे कहां शिफ्ट किया जाएगा. मेडिकल कॉलेज में उपचार कराने की व्यवस्था पर चर्चा की जा रही है. अधिकारियों के आदेश के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

कोल्हुई और पुरंदरपुर थानाक्षेत्र के बड़हरा इंद्रदत्त, कम्हरिया बुजुर्ग, विशुनपुर फुलवरिया और विशुनपुर कुर्थिया में तीन अप्रैल को कोरोना के छह पॉजिटिव केस मिले थे. इनको मिठौरा क्षेत्र के जगदौर सीएचसी में भर्ती कर उपचार प्रारम्भ किया गया था. 16 और 17 अप्रैल को लगातार इनकी रिपोर्ट नकारात्मक आई. इस दौरान जिला कोरोना मुक्त घोषित हो गया था.
 
सात स्थानों पर लगा बैरियर 23 से अधिक सुरक्षाकर्मी तैनात
कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद रतनपुरवा गांव के चारों तरफ सात स्थानों पर बैरियर लगाकर सील कर दिया गया है. इन जगहों पर ड्यूटी पर उप निरीक्षक समेत कुल 23 पुलिसवालों को सुरक्षा में तैनात किया गया है.

यह सभी सुरक्षाकर्मी गांव में प्रत्येक हलचल पर नजर रखेंगे. थानाध्यक्ष दिलीप शुक्ला ने बताया कि शिफ्टवार सुरक्षा कर्मियों की ड्यूटी सभी बैरियर पर लगा दी गई है. नियम का सख्ती से पालन कराया जाएगा. साथ ही प्रत्येक जरूरतमंद की हर संभव मदद की जाएगी.