अधिशासी ऑफिसर बीएल आर्य ने सैनिटाइज करने वाले पालिका कर्मियों को लेकर दी यह बड़ी जानकारी

अधिशासी ऑफिसर बीएल आर्य ने सैनिटाइज करने वाले पालिका कर्मियों को लेकर दी यह बड़ी जानकारी

कोतवाली भीतर पालिका के वॉर्ड सात कल्याणपुर को सैनिटाइज करने के लिए गए पालिका कर्मियों के साथ एक युवक ने अभद्रता कर दी. दवा के फॉर्मले को गलत बताते हुए मौके पर तनाव पैदा किया. अधिशासी ऑफिसर बीएल आर्य ने अभद्रता करने वाले युवक के विरूद्ध कोतवाली में तहरीर दी है. पुलिस मुद्दे की जाँच कर रही है.

आजकल पालिका की टीम कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने को वार्डों को सैनिटाइज करने को दवा का छिड़काव कर रही है. बुधवार को वॉर्ड सात कल्याणपुर में गीता भवन से लगी गली में पालिका टीम द्वारा सोडियम हाइपोक्लोराइड व ब्लीचिंग का छिड़काव किया जा रहा था.

इस दौरान एक युवक ने छिड़काव कर रहे पालिका कर्मियों को रोक कर दवा के फॉर्मूले को गलत बताते हुए मौके पर तनाव का माहौल पैदा कर सरकारी काम में बाधा डाली. गुरुवार को भी युवक ने पालिका ऑफिस में आकर छिड़काव करने वाले कर्मचारियों व अधिकारियों के साथ अभद्रता की. जब पालिका कर्मियों ने उसे रोक कर दवा का फामरूला दिखाने की प्रयास की तो युवक मौके से भाग निकला.

पालिका के अधिशासी ऑफिसर बीएल आर्य ने कोतवाली में युवक के विरूद्ध दी नामजद तहरीर में बोला कि युवक ने पालिका कर्मियों को डरा धमका कर किसी से वीडियो बनवाकर फेसबुक पर वायरल की, जिससे कोरोना महामारी के दौरान ऐसे कृत्य से पालिका अधिकारियों व कर्मियों का मनोबल तोड़ने का कोशिश किया गया व पालिका की छवि धूमिल करने की प्रयास की गई.

कोना पार्क के पास शक्ति नहर में कूदा व्यक्ति

डाकपत्थर के तिकोना पार्क पास से एक आदमी शक्ति नहर में कूद गया, जिसे पुलिस ने बाहर निकालकर उप जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया. जहां प्राथमिक इलाज देने के बाद चिकित्सकों ने हायर सेंटर रेफर कर दिया. गुरुवार को भोजावाला निवासी सोहन लाल डाकपत्थर में तिकोना पार्क के पास पहुंचा व शक्तिनहर में कूद गया. यह सूचना तुरंत कुछ लोगों ने सिपाही त्रेपन सिंह को दी.

सिपाही ने तत्परता दिखाते हुए खुद, एसडीआरएफ व तैराक टाइप युवकों की मदद से शक्तिनहर से सोहन लाल को बाहर निकाल लिया. जिसे पुलिस ने उप जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया. पुलिस ने नहर में कूदे आदमी के बारे में पता करके परिजनों को सूचना दी. जिससे मौके पर उसका दामाद आ गया. उप जिला चिकित्सालय के चिकित्सकों ने प्राथमिक इलाज के बाद सोहन लाल को हायर सेंटर रेफर कर दिया. कोतवाली के एसएसआइ गिरीश नेगी के अनुसार प्रथम दृष्टया जाँच में आया कि नहर में कूदने वाला आदमी पत्नी के बीमार होने की वजह से डिप्रेशन में था, इसी डिप्रेशन में उसने यह कदम उठाया.