पार्टी के सांसद एवं स्टेट इंचार्ज संजय सिंह ने अपने बयान में कहा,'राज्य में ठाकुरों को छोड़कर अन्य जातियों के साथ....

पार्टी के सांसद एवं स्टेट इंचार्ज संजय सिंह ने अपने बयान में कहा,'राज्य में ठाकुरों को छोड़कर अन्य जातियों के साथ....

समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी के पश्चात् अब आम आदमी पार्टी ने भी राज्य सरकार पर जातिवाद में वृद्धि करने का आरोप लगाया है. पार्टी के सांसद एवं स्टेट इंचार्ज संजय सिंह ने अपने बयान में कहा कि राज्य में ठाकुरों को छोड़कर अन्य जातियों के साथ न्याय नहीं किया जा रहा है. यह सरकार केवल क्षत्रियों के लिए ही कार्य कर रही है.  


           
आप सांसद  राजधानी स्थित राज्य दफ्तर में रिपोटर्स से मुखातिब थे. आगे उन्होंने कहा, राम जन्मभूमि मंदिर के शिलान्यास समारोह में प्रेजिडेंट को न बुलाए जाने का मुद्दा मैंने उठाया था. इस पर पुरे देश के दलितों ने खुलकर अपने क्रोध जाहिर किया है. दलितों ने बीजेपी ने इस कार्य को अपना अपमान माना है. वही जबसे मैंने यह बात उठाई है, तभी से मेरे पास बहुत सारे कॉल आ रहे हैं. 

वही राजभर, कुर्मी, गड़ेरिया, कश्यप, लोध, कुम्हार, नाई, बढ़ई, सोनकर, वाल्मीकि, जाटव, पासवान, धोबी, कोली जाति के लोगों में भी सरकार के प्रति अत्यधिक रोष है. सभी जाति के लोग कॉल करके अपनी उपेक्षा की बात कह रहे हैं. आम आदमी सांसद ने कहा कि ब्राह्मण समाज सरकार से बहुत दुखी है. बीजेपी के 58 MLA ब्राह्मण हैं. सभी में बहुत रोष है. उन्होंने डिप्टी चीफ मिनिस्टर डॉ. दिनेश शर्मा से प्रश्न पूछा कि स्वयं ब्राह्मण होकर भी वह ब्राह्मणों के साथ हो रहे, अन्याय पर चुप क्यों हैं. वही आम आदमी सांसद ने ब्राह्मण कार्ड उछालते हुए कहा कि एसटीएफ को लोग ‘स्पेशल ठाकुर फोर्स’ कहने लगे हैं, जो ब्राह्मणों को चुन-चुनकर मार रही है. लोग कह रहे हैं कि राज्य सरकार न सिर्फ दलितों के विरुद्ध है बल्कि यह केवल ठाकुरों की सरकार है. वही अब सरकार में जाति को लेकर हंगामा मचा है.