लखनऊ में ‘चाट क्वीन’ बन गई ये युवती

लखनऊ में ‘चाट क्वीन’ बन गई ये युवती

लखनऊ: गोरखपुर की रहने वाली ज्योति तिवारी लखनऊ की चाट क्वीन के नाम से धीरे-धीरे प्रसिद्ध हो रही हैं 22 वर्षीय ज्योति तिवारी का यात्रा गोरखपुर से बीए की पढ़ाई करने के बाद लखनऊ की प्राइवेट जॉब से शुरू हुआ था 2 वर्ष जॉब करने के बाद जॉब से संतुष्टि न होने की वजह से उन्होंने अपने दोस्तों से 9 हजार रूपए उधार लिए और प्रारम्भ कर दिया पूर्वांचल स्पेशल फास्ट फूड जिसमें पूर्वांचल चाट लोगों को खूब पसंद आ रही है इस तरह की देसी चाट लखनऊ में अभी तक अभी कोई भी नहीं बनाता है इस स्टार्टअप के जरिए ज्योति तिवारी रोजाना 700 रूपए से लेकर 1000 रुपए तक कमा लेती हैं

अपना स्वयं का बिजनेस होने की वजह से वह संतुष्ट भी हैं ज्योति तिवारी ने बताया कि उनके पापा को नहीं पता है कि वह यह काम कर रही हैं लेकिन उनकी मां को जरूर पता है उनकी बहन लखनऊ में ही रहती हैं तो उसी के साथ मिलकर इन्होंने पूर्वांचल स्पेशल फास्ट फूड नाम से ठेला अलीगंज में राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के करीब लगाया है

उन्होंने बताया कि उनके पास पूर्वांचल चाट के अतिरिक्त मोमोज, गोलगप्पे और मैगी भी मिलती है जल्द ही वह चाय पकौड़ा भी प्रारम्भ करने जा रही हैं मूल्य पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि पूर्वांचल चाट 20 रूपए की है जबकि बताशे 10₹ में 5 हैं मोमोज 20 रूपए में 6 पीस हैं साथ ही बताया कि लखनऊवासियों को सबसे अधिक पूर्वांचल की चाट पसंद आ रही है

इस तरह बनती है पूर्वांचल चाट

ज्योति तिवारी ने बताया कि पूर्वांचल चाट को बनाने के लिए सबसे पहले प्याज और टमाटर को अच्छे से भूना जाता है, फिर खड़े मसाले और पिसे मसाले के साथ ही चाट मसाला डाला जाता है फिर उसमें आलू टिक्की मिक्स करके छोले और दही को डालने के बाद यह बनता है

खाने के लिए इस तरह यहां पहुंचें

पूर्वांचल चाट खाने के लिए आपको सबसे पहले अलीगंज में बने हुए राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान आईटीआई के मुख्य गेट पर पहुंचना होगा इस गेट पर पहुंचते ही आप के बाएं हाथ पर 10 कदम की दूरी पर ही ज्योति तिवारी का यह स्टार्टअप आपको नजर आ जाएगा