यूपी में आज से रेहड़ी-पटरी दुकानदारों के लिए विशेष टीकाकरण अभियान

यूपी में आज से रेहड़ी-पटरी दुकानदारों के लिए विशेष टीकाकरण अभियान

लखनऊ पत्रिका यूपी का सभी पाठकों को प्रातः काल सुबह का नमस्कार. आप सभी स्वस्थ्य रहें. खुश रहें. आपका दिन शुभ हो. दिन की आरंभ से पहले आइए जान लेते हैं उत्तर प्रदेश की आज की प्रमुख खबरें.

आज से रेहड़ी-पटरी दुकानदारों के लिए विशेष टीकाकरण अभियान

जनपदों में फेरी लगाकर आजीविका कमाने वाले नागरिकों, ऑटो रिक्शा, टेंपो आदि के ड्राइवर एवं ई-रिक्शा के चालकों के लिए आज से विशेष टीका अभियान. प्रत्येक जनपद में आरटीओ कार्यालय में रोजाना कम से कम 100 कमर्शियल वाहन चालकों इसमें टैक्सी ऑटो रिक्शा एवं ई रिक्शा चालक शामिल होंगे एवं उनके सहयोगीयों के लिए 50-50 क्षमता वाले दो बूथ स्थापित किए जाएंगे. एक 45 साल से अधिक एवं दूसरा 18 से 44 साल तक के नागरिकों के लिए होगा. यह वर्कप्लेस बूथ की तरह से क्रियाशील होगा जिसमें संबंधित ऑफिस से योगदान लेकर दर्ज़ कमर्शियल चालकों को अहमियत के आधार पर दर्ज़ कर वैक्सिनेशन दिया जाएगा. ड्राइवर बूथ एवं स्ट्रीट वेंडर बूथ पर एईएफआई के प्रबंधन की पर्याप्त व्यवस्था की जाएगी तथा आकस्मिकता की स्थिति के लिए एंबुलेंस को तैयार रखा जाएगा.

UP Board Result 2021: बिना मेरिट जारी होंगे 10वीं-12वीं के परिणाम, सीएम योगी ने दिए निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 महामारी की वजह से प्रभावित हुई 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों की पढ़ाई को लेकर अहम निर्णय किया गया है. मुख्यमंत्री योगी ने आदेश दिया है कि इस बार इन कक्षाओं का रिजल्ट बिना मेरिट के जारी किया जाएगा. मुख्यमंत्री योगी ने रविवार को टीम-9 के साथ वर्चुअल माध्यम से कोविड प्रबंधन की मीटिंग की. जिसमें उन्होंने आदेश दिया कि उत्तर प्रदेश बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षाओं का रिजल्ट तैयार करने के विषय में गाइडलाइंस जल्द तय कर इम्तिहान रिज़ल्ट तैयार किया जाए. साथ ही आदेश दिया कि स्थिति सामान्य होने पर विद्यार्थियों को अंक सुधारने का मौका दिया जाए.

UP Weather: मॉनसून ने दी दस्तक, राजधानी लखनऊ समेत इन जिलों में 5 दिनों तक होगी झमाझम बारिश

मौसम विभाग ने यूपी में मॉनसून (Monsoon In Uttar Pradesh) के प्रवेश करने का ऐलान कर दिया है. इस बार समय से लगभग एक सप्ताह पहले 13 जून को मॉनसून (Monsoon) की सूबे में आमद हो गई है. बंगाल की खाड़ी (Bay Of Bengal) से चली मॉनसूनी हवाओं ने पूर्वांचल से लेकर रूहेलखंड तक के जिलों में रिमझिम बारिश का सिलसिला प्रारम्भ कर दिया है. बंगाल, ओडिशा, झारखंड और बिहार की सीमा को पार करने के बाद पूर्वांचल (Purvanchal) के रास्ते प्रदेश में मॉनसून का आगमन हुआ है. मौसम विभाग के अनुसार आंधी पानी का यह सिलसिला कम से कम अगले पांच दिनों तक जारी रहने के संभावना हैं. इस अवधि में पूरब के कई इलाको में मध्यम से भारी बरसात की आसार जताई गई है, जबकि पश्चिमी यूपी के कई इलाकों में गरज-चमक के साथ बारिश के संभावना हैं.

माफिया मुख्तार अंसारी के प्रतिनिधि की तलाश में पुलिस टीम की छापेमारी, सीजेएम न्यायालय में पेशी आज

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की एंबुलेंस प्रकरण में फरार चल रहे उसके विधायक प्रतिनिधि समेत दो की तलाश में पुलिस टीम मऊ पहुंची. एंबुलेंस प्रकरण में बाराबंकी पुलिस की टीम ने रविवार को विधायक मुख्तार के प्रतिनिधि के कई संभावित ठिकानो पर छापेमारी की. वहीं आज एंबुलेंस मुद्दे में बाहुबली व‍िधायक मुख्तार अंसारी की बाराबंकी सीजेएम न्यायालय में पेशी होगी. एंबुलेंस मुद्दे में बाहुबली व‍िधायक मुख्तार अंसारी की बाराबंकी सीजेएम न्यायालय में आज (14 जून) को पेशी है. मुख्तार अंसारी औनलाइन वर्चुअल तौर पर बाराबंकी न्यायालय में पेश होगा.

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए जमीन खरीद में करप्शन के गंभीर आरोप, जन्मभूमि ट्रस्ट पर उठे सवाल

अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट द्वारा राम मंदिर निर्माण के लिए खरीदी गई जमीन पर प्रश्न उठाए गए हैं. समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री तेज नारायण पांडेय पवन ने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट पर जमीन खरीद में करप्शन का आरोप लगाया है. उन्होंने बोला कि जमीन का दो करोड़ रुपये में बैनामा करा लिया गया, फिर भूमि का 10 मिनट के अंदर 18.50 करोड़ रुपये में रजिस्टर्ड एग्रीमेंट कर दिया गया. यह भूमि सदर तहसील क्षेत्र के बाग बिजैसी में स्थित है, जिसका क्षेत्रफल 12 हजार 80 वर्ग मीटर है. पूर्व मंत्री ने पीएम नरेंद्र मोदी से मंदिर के नाम पर किए गए करप्शन की CBI जाँच कराने की मांग की है.


गोरखपुर में बोले सीएम योगी, देश को संकट से उबारने के लिए है RSS की पहचान

गोरखपुर में बोले सीएम योगी, देश को संकट से उबारने के लिए है RSS की पहचान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की पहचान देश को संकट से उबारने वाले संगठन की है। संघ ने हमेशा ही देश और समाज को जोड़ने का कार्य किया है। जब देश पर कोई संकट आया है, संघ के स्वयंसेवक उसे दूर करने के लिए सबसे पहले आगे आए हैं। इसलिए हर मंच से देश के विकास में संघ की भूमिका तारीफ की जानी चाहिए। मुख्यमंत्री गोरखपुर में आयोजित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के गुरु पूजन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

आरएसएस के गुरु पूजन कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने देश के विकास में संघ की भूमिका पर की चर्चा

कोरोना के देशव्यापी संकट की चर्चा करते हुए उससे पार पाने में मुख्यमंत्री ने संघ के योगदान को याद किया। कहा कि कोरोना की पहली और दूसरी दोनों लहर के दौरान संघ के स्वयंसेवक जरूरतमंदों तक पहुंचे और हर स्तर पर उनकी सेवा की। यहां तक कि राशन, दवा आदि का इंतजाम भी किया। क्वारंटाइन सेंटर बनाकर संक्रमितों की सेवा की। आधे घंटे के संबोधन के दौरान मुख्यमंत्री ने पाकिस्तान में हिंदुओं की हो रही दुर्दशा की चर्चा भी की। कहा कि वहां खासतौर से दलितों को प्रताड़ित करने की लगातार सूचनाएं आ रही हैं। इसे लेकर उन्होंने विपक्ष पर भी निशाना साधा।


देश और समाज को जोड़ने का काम कर रहा संघ, कोरोना काल में पेश की सेवा की मिसाल

कहा कि ऐसे मामलों में विपक्ष की खामोशी समझ में नहीं आती। उन्होंने विपक्ष को ऐसी देशद्रोही भावना से उबरने की सलाह दी। इस अवसर पर उन्होंने स्थापना काल से संघ के महत्व और योगदान पर भी प्रकाश डाला। कार्यक्रम में स्वयंसेवकों ने पूरे विधि-विधान से गुरुपूजा की। अंत में प्रसाद का वितरण भी हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रांत संघचालक पृथ्वीराज सिंह ने की । इस अवसर पर प्रांत प्रचारक सुभाष, सह प्रांत संघचालक डा. महेंद्र अग्रवाल, आत्मा सिंह, प्रांत संपर्क प्रमुख अरुण प्रकाश मल्ल, भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष डा. धर्मेंद्र सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष साधना सिंह, विधायक फतेह बहादुर, विपिन सिंह आदि मौजूद रहे।


जल्द मिलेगा भव्य राम मंदिर में दर्शन का अवसर

अयोध्या में जन्मभूमि पर बन रहे भव्य राम मंदिर का भी मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में जिक्र किया। कहा कि मंदिर निर्माण की दिशा में तेजी से कार्य हो रहा है। जन्मभूमि पर जल्द भव्य मंदिर में रामलला का दर्शन के अवसर लोगों को मिलेगा। निश्चित रूप से यह मंदिर पूरी दुनिया के लिए आस्था का केंद्र बनेगा।


मंदिर पहुंच सीएम ने की गुरु आराधना

इसके पूर्व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार की दोपहर बाद गोरखनाथ मंदिर पहुंचे। वहां पहुंचकर उन्होंने सबसे पहले बाबा गोरखनाथ के दरबार में हाजिरी लगाई और फिर अपने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ के समाधि स्थल पर जाकर उनका आशीर्वाद लिया। बुधवार की शाम उन्होंने मंदिर से जुड़ी संस्थाओं के जिम्मेदारी की बैठक बुलाई और जरूरी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने मंदिर परिसर में चल रहे निर्माण कार्य की प्रगति की भी जानकारी हासिल की उसमें बेहतरी को लेकर अपने सुझाव दिए। मुख्यमंत्री ने महायोगी गुरु गोरखनाथ विश्वविद्यालय के लोकार्पण समारोह की तैयारियों की समीक्षा भी की।