कन्नौज में स्कूल के बाहर नहीं खुलेंगी पान-मसाला की दुकानें

कन्नौज में स्कूल के बाहर नहीं खुलेंगी पान-मसाला की दुकानें

कन्नौज के विकास भवन में डीएम सुभ्रान्त कुमार शुक्ला की अध्यक्षता में बाल संरक्षण समिति की बैठक आयोजित की गई. यहां उन्होंने बच्चों की सुरक्षा सम्बन्धी नियमों के पालन कठोरता से कराने पर जोर दिया. उन्होंने बोला कि स्कूल-कॉलेजो के आसपास 200 मीटर की दूरी तक पान-मसाला और शराब की दुकानें नहीं खुलनी चाहिए. यदि कोई पान-मसाला या शराब की दुकान खुली पाई जाती है तो उसके विरूद्ध कार्रवाई अमल में लाई जाएगी.

बच्चों संबंधी मुद्दों पर हो चर्चा

विकास भवन बैठक भवन में आयोजित बैठक के दौरान जिलाधिकारी सुभ्रान्त कुमार शुल्ला ने बोला कि जिले में देखभाल एवं संरक्षण प्राप्त करने वाले बच्चों को आंगनबाड़ी कार्यकत्री और स्वयं सहायता समूह की स्त्रियों के द्वारा चिन्हित किया जाए. झुग्गी-झोपड़ियों और रेलवे स्टेशन पर ऐसे बच्चों को चिन्हित करने का खास कोशिश किया जाए.

स्कूलों और समुदायों में पुलिस और स्वयं सेविकों के माध्यम से बाल अधिकारों की रक्षा के लिए जागरुकता कार्यक्रम कराए जाएं. विद्यालयों में बनाए गए मिनी मंच, बाल संसद में बाल शादी पर परिचर्चा, बाल पेटिंग निबंध गोष्ठी द्वारा बाल अधिकार संरक्षण सम्बन्धी विषयों को शामिल किया जाए.

बच्चों की पिटाई पर होगी कार्रवाई

जिलाधिकारी सुभ्रान्त कुमार शुक्ला ने बैठक में बोला कि जिले के सभी सरकारी, गैर सरकारी और निजी विद्यालय यह सुनिश्चित करें कि वह बिना शारीरिक सजा और मानसिक उत्पीड़न के बच्चों को शिक्षा न प्रदान करें. उन्होंने बोला कि विद्यालयों में आए दिन बच्चों की पिटाई की खबरें प्रकाश में आती हैं.

इस मुद्दे को लेकर राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग अत्यधिक गम्भीर है. इसके बावजूद भी यदि किसी विद्यालय में बच्चों की पिटाई की शिकायते मिलतीं हैं तो उनके विरूद्ध शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 की धारा 17 (1) के अनुसार कार्रवाई की जाएगी.

बच्चों को मिल रहा है लाभ

विकास भवन बैठक भवन में आयोजित जिला बाल संरक्षण समिति, बाल विवाह-डिस्ट्रिक टास्क फोर्स एवं सीएम बाल सेवा योजना की बैठक के दौरान जिला प्रोबेशन अधिकारी इरा आर्य ने आंकड़े प्रस्तुत करते हुए बताया कि कन्नौज में सीएम बाल सेवा योजना के अनुसार 76 बच्चों को लाभान्वित किया जा रहा है. जबकि 5 नए आवेदन जांच के बाद अनुमोदन के लिए समिति के समक्ष प्रस्तुत किए गए हैं.

ये लोग रहे मौजूद

उन्होंने बताया कि सीएम बाल सेवा योजना के अनुसार कुल 54 बच्चों को लाभान्वित किया जा रहा है. 64 नए आवेदन समिति को सौपें गए हैं. सभी नए आवेदन पर जिलाधिकारी ने स्वीकृति प्रदान कर दी है. बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष प्रिया शाक्य, मुख्य विकास अधिकारी आरएन सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक डाक्टर अरविंद कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाक्टर विनोद कुमार उपस्थित रहे.