पुलिस पर हमले के आरोप में सपा के 18 कार्यकर्ताओं पर मर्डर के कोशिश का केस , 16 कारागार भेजे गए

पुलिस पर हमले के आरोप में सपा के 18 कार्यकर्ताओं पर मर्डर के कोशिश का केस , 16 कारागार भेजे गए

मेरठ: मेरठ पुलिस ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के 18 कार्यकर्ताओं पर मर्डर के कोशिश के आरोप में केस दर्ज किया है इनमें अधिकतर विद्यार्थी हैं और 16 सपा कार्यकर्ताओं कारागार भेज दिया है इन सभी पर आरोप है कि उन्होंने सीएम योगी आदित्यनाथ का पुतला जलाने से रोकने पर एक पुलिसकर्मी पर हमला कर उसे बुरी तरह घायल कर दिया

पुलिस ने आइपीसी की 307 (हत्या का प्रयास) के अलावा, निषेधाज्ञा के बावजूद दंगा और अवैध सभा सहित 15 अन्य धाराओं के अनुसार सपा कार्यकर्ताओं पर केस दर्ज किया है समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह ने इस मुद्दे में जिला मजिस्ट्रेट को पत्र लिखकर बोला है कि अरैस्ट किए गए कार्यकर्ता बेगुनाह युवा हैं जो केवल विरोध करने के अपने अधिकार का इस्तेमाल कर रहे थे

मेरठ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) प्रभाकर चौधरी ने के अनुसार जिन सपा कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई हुई है उन्होंने पुलिसवालों पर पेट्रोल फेंका था एसएसपी ने कहा, ''पेट्रोल फेंके जाने से लगी आग में एक पुलिसकर्मी झुलस गया '' केस 4 अक्टूबर को दर्ज किया गया था इसी दिन सपा ने लखीमपुर खीरी हिंसा के विरोध में प्रदर्शन किया था  

सपा कार्यकर्ताओं ने की पुलिस वालों से लड़ाई
एसएसपी के अनुसार विरोध प्रदर्शन के दौरान 200 सपा कार्यकर्ता कमिश्नर ऑफिसर के पास उपस्थित थे लेकिन केवल 18 पर केस दर्ज किया गया है क्योंकि उन्होंने ड्यूटी के दौरान एक पुलिसकर्मी को चोट पहुंचाई उनकी अपनी पार्टी के कार्यकर्ता भी घायल हुए हैं हमारे एक कांस्टेबल को चोटें आईं और उसकी यूनीफॉर्म जल गई  

एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने बताया कि सपा कार्यकर्ताओं ने पुलिसवालों के साथ लड़ाई प्रारम्भ कर दी, जो उन्हें यह समझाने की प्रयास कर रहे थे कि इस तरह के विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं है, क्योंकि जिले में सीआरपीसी की धारा 144 लागू थी वहीं समाजवादी पार्टी के मेरठ जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह  का बोलना है कि कार्यकर्ताओं के विरूद्ध केस बदला लेने के लिए दर्ज किया गया है  

सपा जिलाध्यक्ष ने बताया बदले की कार्रवाई
पुलिस के दावे पर प्रतिक्रिया देते हुए सपा जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह ने कहा, ''सरकार का विरोध करना कबसे क्राइम बन गया है? हमारे कार्यकर्ताओं पर मर्डर के कोशिश के अनुसार केस दर्ज हुआ है वह पुलिसकर्मी कहां है जिसके बारे में बोला जा रहा है कि उसे चोट लगी है? आपको लगता है कि जला हुआ कोई आदमी पांच दिनों में ठीक हो सकता है? बिना किसी निशान के? सरकार अन्य सियासी दलों को धमकाने के लिए पुलिस और नौकरशाही का इस्तेमाल कर रही है ''


UP विजय के लिए कांग्रेस पार्टी की प्रतिज्ञा यात्रा, प्रियंका गांधी ने बनाया ये प्लान

UP विजय के लिए कांग्रेस पार्टी की प्रतिज्ञा यात्रा, प्रियंका गांधी ने बनाया ये प्लान

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में जुटी कांग्रेस पूरे प्रदेश में आज से प्रतिज्ञा यात्रा निकालने जा रही है इसकी शुरूआत पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी (Priynaka Gandhi) बाराबंकी से करेंगी कांग्रेस पार्टी की तीन प्रतिज्ञा यात्रा आज तीन शहरों से रवाना होंगी इस यात्रा का मकसद प्रदेश के कोने-कोने तक कांग्रेस पार्टी को पहुंचाना है

यात्रा के लिए प्रदेश को तीन हिस्सों में बांटते हुए रूट तैयार किया गया है पहला रूट अवध के बाराबंकी और बुंदेलखंड के जिलों को मिलाकर झांसी तक और दूसरा रूट पश्चिमी और बृज क्षेत्र के विभिन्न जिलों के लिए तैयार किया गया है इसी प्रकार तीसरा रूट पूर्वाचल के लिए निर्धारित किया गया है

कांग्रेस की प्रतिज्ञा यात्रा के लिए बस का इस्तेमाल किया जा रहा है बाराबंकी के अतिरिक्त यात्रा दो अन्य शहरों सहारनपुर और वाराणसी से भी यात्रा निकलेंगी प्रदेश के 9 जिलों से गुजरने वाली दूसरी यात्रा बाराबंकी से प्रारम्भ होकर बुंदेलखंड में झांसी में समाप्त होगी तीसरी यात्रा पश्चिमी यूपी में सहारनपुर जिले से शुरुआत होगी और उसका समाप्ति मथुरा में होगा यह यात्रा 11 जिलों से गुजरेगी इन सभी यात्राओं का समाप्ति एक नवंबर को होगा

पूर्व सांसद और पार्टी के छत्तीसगढ़ के प्रभारी पीएल पुनिया ने बताया कि पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा तीनों यात्राओं का शुरुआत हरी झंडी दिखाकर बाराबंकी जिले से करेंगीं इस मौके पर प्रियंका गांधी वाड्रा पार्टी के सात संकल्पों के बारे में विस्तार से बताएंगीं