उत्तर प्रदेश

Lok Sabha Chunav 2024: निम्बाहेड़ा में क्यों आयोजित हुआ योगी का रोड शो

Rajasthan Lok Sabha Chunav 2024: प्रदेश में लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 12 सीटों के लिए मतदान हो चुके है, जबकि दूसरे चरण की 13 सीटों के लिए 26 अप्रैल को मतदान होने है जैसे-जैसे मतदान की तारीख निकट आ रही है दोनों ही मुख्य पार्टियां बीजेपी और कांग्रेस पार्टी अपने-अपने प्रत्याशियों को जिताने में पूरी ताकत झोंक रही हैं यही वजह है कि दोनों पार्टियों ने प्रदेश से लेकर राष्ट्रीय स्तर के कद्दावर नेताओं को बतौर स्टार प्रचारक प्रत्याशियों के प्रचार प्रसार में लगा दिया है खासकर जिन क्षेत्रों में प्रत्याशियों की पकड़ कमजोर आंकी जा रही है, वहां वोटर्स को अपने पाले में लाने में दोनों ही सियासी पार्टियां जी जान से जुटी हुई है

?
चित्तौड़गढ़ लोकसभा सीट से इस बार इसी तरह की बानगी देखने को मिल रही है शनिवार को बीजेपी के स्टार प्रचारक यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की ओर से चित्तौड़गढ़-प्रतापगढ़ लोकसभा सीट से प्रत्याशी सीपी जोशी के समर्थन में निम्बाहेड़ा में रोड़ शो किया गया नीम्बाहेड़ा में हुए योगी आदित्यनाथ के इस रोड़ शो के कई खास अर्थ निकाले जा रहे है, जिसके चलते चित्तौड़गढ़ मुख्यालय की बजाय रोड़ शो कार्यक्रम निम्बाहेडा में किया गया चित्तौड़गढ़ लोकसभा क्षेत्र में जिले की 8 विधानसभाओं में उदयपुर की दो, प्रतापगढ़ जिले की एक विधानसभा शामिल है आठों विधानसभाओं में कुल 21 लाख 58 हजार 776 मतदाता है सर्वाधिक 2 लाख 80 हजार 234 मतदाता बेगूं विधानसभा में है दूसरे नंम्बर पर 2 लाख 76 हजार 738 मतदाता निम्बाहेड़ा विधानसभा में है जो कि कुल वोट का 7.80 प्रतिशत वोट बैंक हैं

कांग्रेस और भाजपा में कांटे की टक्कर
पार्टी नेता के रूप में साख की बात की जाए तो प्रारम्भ से ही निम्बाहेड़ा विधानसभा सीट पर कांग्रेस पार्टी के कद्दावर उदयलाल आंजना और बीजेपी के श्रीचंद कृपलानी के बीच कांटे की भिड़न्त रही है दोनों ही नेता तीन से चार बार बारी-बारी से निम्बाहेड़ा सीट से विधायक रहे हैं वहीं चित्तौड़गढ़ संसदीय सीट से उदयलाल आंजना एक बार और श्रीचंद कृपलानी दो बार सांसद रह चुके है लोकल नेता के तौर पर दोनों ही नेता निम्बाहेडा क्षेत्र में अच्छी साख पकड़ रखते है, जबकि ईधर पिछले दो लोकसभा चुनावों की बात की जाए, तो दोनों बार सीपी जोशी का मुकाबला कांग्रेस पार्टी के बाहरी प्रत्याशियों से रहा था, जिसके चलते क्षेत्रीय प्रत्याशी होने के साथ ही 2014 और 2019 में मोदी लहर का सीपी जोशी को भरपूर फायदा मिला और दोनों ही चुनावों में सीपी जोशी को रिकॉर्ड वोटों से जीत मिली थी, लेकिन इस बार कांग्रेस पार्टी ने लोकसभा चुनाव में क्षेत्रीय पकड़ रखने वाले उदयलाल आंजना को मैदान में उतारा है जो निम्बाहेड़ा क्षेत्र से सीपी जोशी को कांटे की भिड़न्त देने का दम रखते हैं

‘बुलडोजर बाबा’ का रोड शो बदलेगा समीकरण!
चित्तौड़गढ़ से बीजेपी के लोकल प्रत्याशी होने के अतिरिक्त सीपी जोशी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष भी हैं हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में सीपी जोशी के नेतृत्व में बीजेपी की गवर्नमेंट बनी है ऐसे में सीपी जोशी और बीजेपी के लिए चित्तौड़गढ़ सीट पर जीत हासिल करना और भी अधिक अहम हो जाता है निश्चित तौर पर ये भी माना जाता है कि जिस क्षेत्र में प्रत्याशी की पकड़ कमजोर हो, वहां बुल्डोजर बाबा का दौरा वोटों का समीकरण बदलने का दम रखता है ऐसे में निम्बाहेड़ा क्षेत्र में अधिक से अधिक वोटर्स को सीपी जोशी के पाले में लाने के लिए बीजेपी की ओर से तीसरी बार विधायक रहे क्षेत्रीय नेता श्रीचंद कृपलानी की प्रतिनिधित्व में ‘बुलडोजर बाबा’ योगी आदित्यनाथ का रोड़ शो आयोजित करवाया गया

 

Related Articles

Back to top button